ताश  के महल की तरह गिरी बिल्डिंग, नाले पर 20 साल से था कब्जा, देखिए वीडियो

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
    ताश  के महल की तरह गिरी बिल्डिंग, नाले पर 20 साल से था कब्जा, देखिए वीडियो

निगम ने दोपहर में कार्रवाई के लिए अचानक धावा बोला, सवा घंटे में इमारत जमींदोज

जबलपुर। मॉडल रोड के एमएलबी स्कूल की ओर जाने वाले लेफ्ट टर्न पर सैकड़ों लोगों की भीड़ जुटी थी। एक ओर सड़क बंद कर निगम बिल्डिंग तोडऩे की कार्रवाई कर रहा था। मॉडल रोड पर यातायात जारी था। शाम ठीक 5.18 बजे अचानक बिल्डिंग मलबे में तब्दील हो गई। एेसा लगा जैसे विस्फोट हो गया हो। धूल का गुबार और इमारत गिरने की आवाज से लोग भाग खड़े हुए। 
निगम ने दोपहर में कार्रवाई के लिए अचानक धावा बोला। नाले पर पिलर खड़े कर पांच दुकानों का निर्माण कराया गया था। इनके ऊपर बिरयानी सेंटर का अवैध तरीके से निर्माण हुआ था। ऊपरी तल पर बिरयानी सेंटर सहित नीचे विकास भोजनालय, राजा टे्रवल्स, एशियन टायर्स, चौरसिया पान सेंटर का संचालन हो रहा था।


nnj 3

बंद की बिजली लाइन
बिजली लाइन कट करने के लिए निगम ने बिजली कंपनी को सूचित किया था। लाइन कटने से पहले ही कार्रवाई शुरू कर दी गई। इस दौरान बिजली कर्मी पोल पर चढ़कर खतरनाक स्थिति में सप्लाई कट करता दिखा। दुकानों के पिलर पंक्चर करने के बाद दो जेसीबी हट गई थीं। एक जेसीबी आखिरी पिलर को पंक्चर कर रही थी, तभी निर्माण ताश के पत्तों की तरह धराशायी हो गया। बिल्डिंग सड़क की ओर गिरी, जिसकी चपेट में आने से जेसीबी व उसका चालक बच गए। कार्रवाई के दौरान अपर आयुक्त जीएस नागेश, उपायुक्त जीएस बघेल, उपयंत्री विजय बघेल, दल प्रभारी राजू रैकवार, मुकेश पारस, उमेश सोनी, लक्ष्मण अहिरवार, नरेन्द्र कुशवाहा, मुकेश तिवारी, मुन्ना खान सहित पुलिस बल मौजूद रहा। 


विरोध का प्रयास
nnj 1
शाम चार बजे जैसे ही जेसीबी के पंजे चलना शुरू हुए, ऊपरी तल पर पूर्व में बिरयानी सेंटर का संचालन करने वाला शख्स मौके पर पहुंच गया। उसने कार्रवाई के विरोध का प्रयास किया।


ऐसे किया जमींदोज
nnj 2


शाम 4 बजे- पिलर पंक्चर

शाम 5.18- बेस अलग होते ही गिरी इमारत

और फिरउठा गुबार, मची भगदड़ 


150 फ्लैक्स हटाए
कार्रवाई के पहले अमले ने सिविल लाइंस, कांचघर, गोलबाजार, रानीताल क्षेत्र से लगभग 150 फ्लैक्स, बैनर, पोस्टर हटाए।  दल प्रभारी राजू रैकवार ने बताया कि सर्किट हाउस नंबर एक के पास से ठेले टपरों को भी हटाया गया।

-2 साल पहले लीज खत्म
-निगम ने दिया था नोटिस
-कोर्ट से स्थगन आदेश 
-पहली मंजिल का अवैध निर्माण
-5 दुकानों का नीचे संचालन
-स्थगन आदेश हटते ही निगम ने दिया 24 घंटे का नोटिस
-03 बजे दोपहर दिया निगमायुक्त ने आदेश
-20 मिनट में मौके पर पहुंचा निगम अमला
-30 मिनट दुकानें खाली करने दिए
-4 बजे कार्रवाई शुरू
-5.18 बजे बिल्डिंग ध्वस्त

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned