माइनिंग विभाग के कब्जे से वाहन लेकर भागे खनन माफिया, अवैध मुरम खनन का मामला

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
  माइनिंग विभाग के कब्जे से वाहन लेकर भागे खनन माफिया, अवैध मुरम खनन का मामला

मिढ़ासन गांव में मुरम के अवैध खनन करने की बात सामने आई है, खनिज विभाग ने कार्रवाई कर तीन वाहन जब्त किए हैं

जबलपुर/सिहोरा। फोरलेन सड़क निर्माण में अवैध खनन करने का मामला सामने आया है। बताया गया है कि एलएण्डटी कंपनी फोरलेन सड़क का निर्माण कर रही है। जिसके लिए अवैध रूप से मुरम का खनन किया गया। बुधवार को माइनिंग इंस्पेक्टर सुनील उईके, सतीश नागले मौके पर पहुंचे। शुरूवाती जांच में लाखों रुपए की अवैध मुरम के उत्खनन की बात सामने आई है। ग्रामीणों ने बताया कि पटवारी कार्रवाई करने के लिए आया था। उस दौरान दस हाईवा और एक पोकलेन मशीन जब्त की गई थीं। वाहनों को थाने नहीं भेजा गया। जिससे रात में ही कंपनी के कर्मचारी आठ हाईवा लेकर भाग गए। 

ये है पूरा मामला

ग्राम पंचायत देवनगर के मिढ़ासन गांव में पटवारी हल्का नंबर  80 खसरा नंबर 300/1 सरकारी भूमि दर्ज है। जिसमें फोरलेन बना रही एलएंडटी के ठेकेदार ने पोकलिन से करीब एक एकड़ से अधिक एरिया में अवैध मुरम खोद डाली। शाम को ग्रामीणों ने मामले की शिकायत तहसीलदार से की।

समतल जमीन को बना दिया तालाब

ठेकेदार ने मुरम का अवैध उत्खनन करके समतल जमीन को खोदकर तालाब बना दिया है। पोकलिन से खुदाई के निशान जगह-जगह दिख रहे थे। माइनिंग विभाग ने पूरे एरिया की नाप-जोख की। साथ ही स्थल का पंचनामा भी तैयार किया।

illegal mining

पटवारी की मिलीभगत

तहसीलदार के निर्देश पर पटवारी सतीश चौधरी मौके पर पहुंचा। मौके पर पोकलिन से मुरम का अवैध उत्खनन हो रहा था। साथ ही दस हाइवा लगे थे। पटवारी ने पंचनामा तो बनाया, लेकिन जप्त वाहनों को थाने में नहीं भेजा। वहीं पर सारे वाहनों को खड़ा करवा दिया। रात में 8 हाइवा लेकर ठेकेदार के कर्मचारी भाग गए।

इनका कहना है कि

जहां से मुरम का अवैध उत्खनन हुआ है, उस पूरे एरिया को नापा गया है। एक पोकलिन और दो हाइवा जप्ती की कार्रवाई की है। अवैध खनन को लेकर एलएंडटी के ठेकेदार को नोटिस भेजा जाएगा
सुनील उईके, माइनिंग इंस्पेक्टर

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned