ऐसे ब्लैक से व्हाइट हो रही थी मनी, बिल्डरों पर इनकम टैक्स की रेड में खुलासा

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
  ऐसे ब्लैक से व्हाइट हो रही थी मनी, बिल्डरों पर इनकम टैक्स की रेड में खुलासा

पुराने नोटों से खरीदी नई प्रॉपर्टी, पांच बिल्डरों पर आयकर का छापा

जबलपुर। आयकर विभाग ने पुराने नोट से नई प्रॉपर्टी खरीदी का पर्दाफाश किया है। विभाग की इन्वेस्टीगेशन विंग ने मंगलवार शाम एक साथ शहर के पांच बिल्डर्स के यहां छापा मारा। इससे हड़कंप मच गया। अधिकारियों ने बिल्डरों के  कार्यालय, घर और साइट पर भी छापा मारकर दस्तावेज जब्त किए। कार्रवाई देर रात तक जारी थी। 

विभाग की इन्वेस्टीगेशन विंग को जानकारी मिली कि चलन में नहीं होने के बाद भी बिल्डर्स 500 और 1000 रुपए के नोट से प्रॉपर्टी की खरीदी एवं बिक्री कर रहे हैं। यानी ब्लैक मनी को व्हाइट करने का खेल किया जा रहा है। पुख्ता सबूत मिलने पर विभाग ने एक साथ इन डवलपर्स के यहां छापा मारा। बताया जाता है कि इनके ऑफिस एवं साइट से बड़ी तादाद में बिक्री सम्बंधी कागजात मिले हैं।

income tax raid

यहां पड़ा छापा

विभाग ने गाला डवलपर्स, स्टार, सेंचुरी, कल्याणिका बिल्डर्स एंड डवलपर्स और सेंक्युरी डवलपर्स सहित पांच ग्रुप पर छापा मारा। अधिकारियों से सबसे पहले कार्यालय और ऑफिस में रखे दस्तावेजों को अपने कब्जे में लेना शुरू कर दिया। बताया जाता है कि इन लोगों द्वारा बडे़ पैमाने पर पुराने नोट से संपत्ति की बिक्री की जा रही थी। अब विभाग इस आकलन में जुटा है कि कितनी संपत्ति का विक्रय चलन से बाहर चुके 500 और एक हजार रुपए के नोट के माध्यम से  किया जा चुका है। टीम ऑफिस और साइट पर पुराने नोट की तलाश भी कर रही है। समाचार लिखे जाने तक टीम की जांच जारी रही।

income tax raid 

ज्वेल्र्स पर पहले ही शिकंजा

गौरतलब है कि आयकर विभाग ने बिल्डर्स से पहले शहर के चार बडे़ ज्वेलर्स के यहां भी छापे की कार्रवाई की थी। एक ज्वेलर्स के यहां पर बड़ी मात्रा में नकदी भी मिली थी। सारे नोट 500 और 1000 रुपए के थे। इनसे पूछताछ भी चल रही है। इसी तरह खरीदी करने वाले ग्राहकों को नोटिस भेजे जा रहे हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned