इस डांस में छिपी हैं योग की मुद्राएं, हर दर्द का है इलाज, देखें वीडियो

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
   इस डांस में छिपी हैं योग की मुद्राएं, हर दर्द का है इलाज, देखें वीडियो

नृत्य गुरु ने एक अनूठा प्रयोग किया और अधिक से अधिक लोगों को योग के प्रति जागरूक कर रही हैं

जबलपुर। विश्व योग दिवय 21 जून को पूरी दुनिया में मनाया जाएगा। इसकी शुरुआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पहल पर हुई है। योग से होने वाले स्वास्थ्य लाभ को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाना इसका मुख्य उद्देश्य है। लेकिन अधिकतर लोगों को यह बोरियत का काम लगता है। ऐसे में नृत्य गुरु नीलांगी कलंत्रे ने एक अनूठा प्रयोग किया और अधिक से अधिक लोगों को योग के प्रति जागरूक करने का काम कर रही हैं। वे योग से दूर रहने वालों को क्लासिकल डांस के माध्यम से स्वास्थ्य लाभ बता रही हैं। विश्व योग दिवस के अवसर पर पेश लाली कोष्टा की ये खास रिपोर्ट...


हर मुद्रा में योग-
शास्त्रीय नृत्य शैली बहुत पुरानी है। इसकी हर मुद्रा में योग जुड़ा है। परंतु लोगों ने इस ओर कभी ध्यान ही नहीं दिया। पैर चलाने से लेकर हाथों की आकृतियों तक स्वास्थ्य से जुड़ी हैं। फिर चाहे अंगुलियों से बनने वाली आकृतियां हों या जोर-जोर से पैर पटक कर घुंघरुओं की झंकार पैदा करना। इससे मन, मस्तिष्क और शरीर को चमक मिलती है। कुछ देर के लिए हो सकता है कि नृत्य करने से शरीर में थकान आ जाए, लेकिन इसका परिणाम चेहरे पर तेज, दिमाग को चैतन्यता के रूप में प्राप्त होता है।


नीलांगी कलंत्रे ने बताया कि शास्त्रीय नृत्य करने वालों के चेहरे हमेशा चमकते रहते हैं वे चैतन्यता के साथ बात करते हैं, जबकि वे योग नहीं करते तब भी। क्योंकि नृत्य में वे सारी क्रियाएं कर लेते हैं जो योग मुद्राओं में होता है।

देखें नृत्य में योग का ये वीडियो- 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned