सिविल सर्विस सलेक्शन में भोपाल, इंदौर को टक्कर दे रहा जबलपुर

abhishek dixit

Publish: Apr, 21 2017 12:46:00 (IST)

jabalpur
 सिविल सर्विस सलेक्शन में भोपाल, इंदौर को टक्कर दे रहा जबलपुर

सिविल सर्विस डे 21 अप्रैल को : जबलपुर संभाग से मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की राज्य सेवा परीक्षा में हर साल चुने जा रहे हैं नए जन सेवक

जबलपुर। सिविल सर्विस में सलेक्ट होना हर युवा का सपना होता है। इस सपने को पूरा करने के लिए जबलपुर युवाओं को परफेक्ट प्लेटफॉर्म दे रहा है। सिविल सर्विसेज में प्रदेश की प्रतिष्ठित राज्य सेवा परीक्षा में इस बार भी जबलपुर संभाग के एस्पिरेंट्स में से तकरीबन 30 प्रतिशत कामयाब रहे। सिविल सर्विसेज के मेंटर संदीप तिवारी ने बताया कि प्रदेश की राजधानी भोपाल और एजुकेशन हब के रूप में प्रख्यात इंदौर को शहर कड़ी टक्कर दे रहा है। लोक सेवा में हर साल योग्य युवाआें की बढ़ती तादाद इस बात का प्रमाण है कि युवाओं ने सिविल सर्विसेज को कॅरियर के लिए फस्र्ट प्रिफरेंस दिया है।


हर साल बढ़ रहे अधिकारी
सलेक्शन लिस्ट की बात की जाए तो हर पीएससी के फाइनल रिजल्ट आउट में अधिकारियों की संख्या बढ़ती जा रही है। इनमें जबलपुर संभाग के 8 से 10 स्टूडेंट हर फाइनल लिस्ट में टॉप 20 में शामिल होते हैं। इतना ही नहीं इनकी पोस्टिंग भी उप जिलाध्यक्ष, उप पुलिस अधीक्षक, फाइनेंस, जिला आबकारी अधिकारी और नायब तहसीलदार जैसी कई पोस्ट शामिल हैं। टॉप प्रायोरिटी वाली इन्हीं पोस्ट्स पर जबलपुर जोन के अधिकांश स्टूडेंट्स सलेक्ट हो रहे हैं।

शेड्यूल ट्रेक पर लौटा
वर्ष 2013 के बाद से लगातार मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग के द्वारा राज्य सेवा परीक्षा आयोजित की जा रही है। 2013 की प्रारंभिक में तकरीबन 6 महीनों का एक्स्ट्रा टाइम लगा था। वहीं 2013 सत्र की मुख्य परीक्षा मार्च-अप्रैल 2015 में आयोजित की गई थी। इसके बाद 2014, 2015, 2016 और 2017 की प्रारंभिक परीक्षा आयोग द्वारा घोषित किए गए कैलेंडर के आधार पर आयोजित होती रही। इस बार भी पूर्व निर्धारित टाइम शेड्यूल के आधार पर 2017 की प्रारंभिक परीक्षा हुई और प्रीलिम्स का रिजल्ट भी जारी हो चुका है।

शहर बन रहा सलेक्शन हब
अभी तक पीएससी के लिए इंदौर, भोपाल को प्रिपरेशन और सलेक्शन हब माना जाता रहा है। लेकिन पिछले कुछ वर्षों के दौरान जबलपुर जोन ने प्रदेश के इन दोनों ही शहरों को पीएससी के रिजल्ट और सलेक्शन में कड़ी टक्कर दी है। शहर संभाग के अन्य जिलों से स्टूडेंट्स जबलपुर में पीएससी की तैयारी करने आ रहे हैं और सलेक्ट भी हो रहे हैं। इसका प्रत्यक्ष प्रमाण पिछली तीन राज्य सेवा परीक्षाओं का परिणाम है।

पिछली तीन पीएससी का रिजल्ट कम्पेरिजन
2013 - टॉप 10 में जबलपुर से 4 सलेक्शन
2014 - सबसे ज्यादा डीएसपी पोस्ट सलेक्शन
2015 - जबलपुर से टॉप 20 में 2 सलेक्शन प्लस वेटिंग में भी।

सिविल सेवा दिवस आज
सिविल सेवा दिवस 21 अप्रैल को मनाया जाता है। इसका उद्देश्य जनसेवकों का नागरिकों के लिए स्वयं को एक बार पुन: समर्पित और वचनबद्ध करना है। इसे सभी सिविल सेवा द्वारा मनाया जाता है। यह दिन सिविल सेवकों को बदलते समय के चुनौतियों के साथ भविष्य के बारे में आत्मनिरीक्षण और सोचने का अवसर प्रदान करता है। केन्द्री और राज्य सरकारों के सभी अधिकारियों को भारत के प्रधानमंत्री द्वारा सार्वजनिक प्रशासन में उत्कृष्टता के लिए सम्मानित किया जाता है। लोक प्रशासन में उत्कृष्टता के लिए प्रधानमंत्री पुरस्कार तीन श्रेणियों में प्रस्तुत किया जाता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned