मौत के तांडव पर भी नहीं सुधरे हाल, गुस्साए पटवारियों ने घेरकर पकड़ा भाजपा नेता का हाईवा

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
मौत के तांडव पर भी नहीं सुधरे हाल, गुस्साए पटवारियों ने घेरकर पकड़ा भाजपा नेता का हाईवा

पटिया लगाकर हो रहा था ओवरलोड बाक्साइड परिवहन

कटनी। विजयराघवगढ़ थाना के देवराकलां मेंं दो दिन पूर्व हुए हादसे में पटवारी संजय पटेल सहित उनके परिवार व पड़ोसी परिवार के सदस्यों सहित छह लोगों की मौत के बाद पटवारी गुस्से में हैं। सोमवार को पटवारी पूरे मामले में पुलिस द्वारा सही जांच नहीं किए जाने के मुद्दे पर पटवारी संघ के सदस्य तहसील परिसर में नारे लगा रहे थे। तभी सड़क से भाजपा नेता रामरतन पायल का हाईवा निकल रहा था। हाईवा में बाक्साइड लोड था। जिसे पटवारियों ने घेरकर रोक लिया। ट्रक में पटरा लगाकर बाक्साइड भरा गया था। पटवारियों ने वाहन को तहसीलदार के सुपुर्द किया। जांच के दौरान पता चला कि वाहन में ओवरलोड बाक्साइड परिवहन हो रहा था। वहीं मंगलवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर प्रदर्शन करते हुए बेलगाम वाहनों पर कार्रवाई की मांग की।


चालक को मिली जमानत 
देवराकलां के पास पटवारी संजय की कार को हाइवा ने टक्कर मारी थी जिसमें उनके सहित उनकी बेटी, बेटे और पड़ोसी रेखा नायक व उनके दो बच्चों की मौके पर मौत हो गई थी। वहीं संजय की पत्नी अभी भी गंभीर हालत में एमजीएम अस्पताल में भर्ती है। मामले में आरोपी चालक बसाड़ी निवासी अतुल दाहिया को कुठला पुलिस ने पकड़ा था और उसे विजयराघवगढ़ पुलिस के हवाले कर दिया था। जिससे पुलिस ने पूछताछ की और उसके बाद उसे थाना से ही जमानत दे दी गई। दूसरी ओर संजय की पत्नी ज्योति पटेल की स्थिति में सुधार होने पर सोमवार को उनके जबड़े का ऑपरेशन डॉक्टरों ने किया है। 


सौंपा ज्ञापन कहा पुलिस आरोपियों को बचा रही
पटवारी संघ ने प्रदर्शन कर सोमवार को ज्ञापन सौंपा। जिसमें दुर्घटना को सोची समझी साजिश बताते हुए पुलिस पर सही जांच न करने व ट्रक मालिक भाजपा नेता को बचाने का भी आरोप लगाया।  तहसील अध्यक्ष विनीत सिंह के नेतृत्व में शाम को तहसील कार्यालय के बाहर एकत्र हुए पटवारियों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। साथ ही एसडीएम धर्मेन्द्र मिश्रा को ज्ञापन सौंपा। जिसमें देवराकलां में हुए हादसे को लेकर उनका कहना था कि इसे पुलिस हादसा बता रही है जबकि वह पटवारी को जानबूझकर मारने की साजिश थी। संघ पदाधिकारियों ने यह भी आरोप लगाया कि मामला विजयराघवगढ़ थाना क्षेत्र का होने के बाद भी जब्त ट्रक को कुठला थाना में ले जाकर खड़ा कराया गया है, जिससे जांच मेंं उन्हें संदेह है और मामले की निष्पक्ष जांच कराने की मांग की गई। साथ ही जांच सही न होने पर मंगलवार को एसडीएम को बस्ता सौंपकर काम बंद रखने की चेतावनी भी दी।

इनका कहना है 
चालक से पूछताछ की गई है और उसे नियमानुसार जमानत दी गई है। मामले की सभी पहलुओं पर जांच की जा रही है। यदि जांच में कोई और भी दोषी पाया जाता है, नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। 
आरडी द्विवेदी, थाना प्रभारी विजयराघवगढ़

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned