बहनों को राखी बांधने के लिए मिलेंगे सिर्फ 4 घंटे, जानिए क्या है वजह

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
बहनों को राखी बांधने के लिए मिलेंगे सिर्फ 4 घंटे, जानिए क्या है वजह

चंद्रग्रहण 7 अगस्त को, मकर राशि होगी सबसे ज्यादा प्रभावित

जबलपुर/कटनी। इस वर्ष रक्षाबंधन का पर्व सात अगस्त को मनाया जाएगा। इस दिन चंद्रग्रहण होगा जो भारत में भी दिखाई देगा। ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक इस बार रक्षाबंधन पर्व के दौरान राखी बांधने के लिए शुभ मुहूर्त चार घंटे ही होंगे, जब  भाई की कलाई पर बहन शुभ मुहूर्त में राखी बांध सकेगी। ग्रहण के प्रभाव से राजनीतिक व प्राकृतिक घटनाओं के घटित होने के योग हैं। चंद्रग्रहण के 14 दिन बाद 21 अगस्त को सूर्यग्रहण भी होगा। ज्योतिषाचार्य जनार्दन शुक्ला ने बताया कि श्रावण पक्ष की पूर्णिमा, श्रवण नक्षत्र एवं मकर राशि में भारत में दृश्य चंद्रग्रहण की घटना घटित होगी। 


यह है वजह
इस चंद्रग्रहण का स्पर्श रात्रि 10.45 बजे से होगा और ग्रहण का मोक्ष रात्रि 12.42 बजे होगा। इस प्रकार ग्रहण की कुल अवधि लगभग दो घंटे की होगी। सात अगस्त को चंद्रग्रहण के सूतक की शुरुआत लगभग 10 घंटे पूर्व दोपहर 1.45 बजे होगी। चंद्रग्रहण की समाप्ति के साथ ही सूतक की समाप्ति होगी।

रक्षाबंधन होगा प्रभावित
ज्योतिषशास्त्रीय मान्यताओं के आधार पर एेसा माना जाता है कि भद्रा व सूतक काल में शुभ कार्य वर्जित होते हंै। रक्षाबंधन के पूर्व सुबह भद्रा काल होगा। इसके चार घंटे बाद सूतक काल प्रारम्भ होगा, जिसके चलते रक्षा बंधन के लिए चार घंटे का ही मुहूर्त है।


ग्रहण की वैज्ञानिक मान्यता
वैज्ञानिक मान्यताओं के आधार पर ग्रहण की अवधि में पृथ्वी के उत्तरी और दक्षिणी ध्रुव प्रभावित होते हंै। इसलिए सृष्टि मलिन हो जाती है। ग्रहण का प्रभाव संसार के समस्त जीवों पर होता है।

इस काल में मनाएं रक्षाबंधन/b>
भगवान भोलेनाथ के उपासना का उत्तम माह श्रावण मास के आखिरी सोमवार को रक्षा बंधन है। लेकिन भद्रा और ग्रहण के कारण त्यौहार में खलल आ रहा है। 7 अगस्त को 10 बजकर 39 मिनट तक भद्रा रहेगा। इसके साथ ही देापहर 1 बजकर 53 मिनट से ग्रहण का सूतक लग जाएगा। इसलिए 10 बजकर 40 मिनट से 1 बजकर 52 मिनट तक रक्षाबंधन के लिए शुभ समय बताया गया है।

राशियों पर पड़ेगा प्रभाव
मेष- शत्रुओं से सम्बंधित सावधानी बरतने की जरूरत।
वृषभ- संतान पक्ष विषयक एवं आर्थिक क्षेत्रों में सावधानी बरतें।
मिथुन- लेन देन विषयक सावधानी बरते।
कर्क-  पराक्रम में वृद्धि होगी।
सिंह- आर्थिक लाभ के योग।
कन्या- जीवन साथी एवं नए सम्बंधों का लाभ होगा।
तुला- सम्पत्ति के क्रय विक्रय में सावधानी बरतें।
वृश्चिक- कॅरियर से सम्बंधित लाभ होगा।
धनु- मानसिक उलझनों से बचने का प्रयास करें।
मकर- समस्त क्षेत्रों में सावधानी की जरूरत है।
कुंभ- स्वास्थ्य विषयक सावधानी बरतने की जरूरत।
मीन- मित्रों से लाभ का योग हंै।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned