टीआई के नाम पर SI का रिश्वत लेते VIDEO वायरल, पुलिस महकमे में हड़कंप

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
 टीआई के नाम पर SI का रिश्वत लेते VIDEO वायरल, पुलिस महकमे में हड़कंप

SI द्वारा बीच सड़क 2 हजार रुपए की रिश्वत लेने के वायरल हुए वीडियो ने मंगलवार को पुलिस महकमे समेत शहर में हड़कंप मचा दिया। 

जबलपुर। एसआई द्वारा बीच सड़क दो हजार रुपए की रिश्वत लेने के वायरल हुए वीडियो ने मंगलवार को पुलिस महकमे समेत शहर में हड़कंप मचा दिया। वीडियो क्लिप वायरल करने वालों का दावा है कि रिश्वत लेते नजर आ रहा शख्स सिविल लाइंस थाने का एसआई एके पटेल है। एसआई वीडियो में कह रहा है कि रिश्वत वह अपने लिए नहीं, बल्कि थाना प्रभारी के लिए ले रहा है। वह रकम उसे थाना प्रभारी तक पहुंचानी है। वीडियो वायरल करने वालों के मुताबिक एसआई ने यह रिश्वत एक ट्रांसपोर्टर से वाहन को न्यायालय से सुपुर्दनामे पर दिलाने के नाम पर ली है।  


ये है मामला
विजय नगर निवासी ट्रांसपोर्टर बृजमोहन सिंह ठाकुर की गाड़ी (एमपी 20 सीई 8787) से सिविल लाइंस थाना क्षेत्र में 23 अक्टूबर को सड़क हादसा हो गया था। सिविल लाइंस थाने में भादंवि की धारा 279, 337 के तहत केस दर्ज किया गया था। 

जांच थाना प्रभारी ने एसआई एके पटेल को सौंपी थी। ठाकुर के अनुसार एसआई पटेल ने उन्हें सोमवार को गाड़ी लेकर थाने बुलाया। वे उस ड्राइवर के साथ पहुंचे, जो ड्राइवर घटना दिनांक को उनका वाहन चला रहा था। एसआई ने उन्हें थाने में कई घंटे इंतजार कराया। लंच के बाद वह केस डायरी लेकर न्यायालय पहुंचा, जहां से सुपुर्दनामे पर वाहन ठाकुर को दिया गया। इसके बाद वे वाहन लेकर थाने से रवाना हो गए। कुछ देर बाद एसआई उन्हें फोन लगाने और मिलने की बात करने लगा। 

एसआई ने ये बातें भी कहीं 
-आपके लिए 12 घंटे से बैठा हूं।
-टीआई ने थाने में कैमरा लगारखा है, सब देखता है।
-दो हजार रुपए तो उसे (टीआई) देने पड़ेंगे।
-टीआई को अपशब्द भी कहे।  


पहले एक हजार रुपए लिए
ट्रांसपोर्टर ठाकुर के अनुसार एसआई उनसे पहले भी एक हजार रुपए ले चुका है। इसके बावजूद उन्हें परेशान कर रहा था।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned