डॉक्टर्स कॉलोनी में फैली महामारी, कई लोग बीमार

Piyushkant Chaturvedi

Publish: Jan, 14 2017 03:48:00 (IST)

Janjgir-Champa, Chhattisgarh, India
डॉक्टर्स कॉलोनी में फैली महामारी, कई लोग बीमार

दूसरों के स्वास्थ्य के लिए जी-जान लगा देने वाले डॉक्टर व स्टाफ इन दिनों खुद की जान बचाने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं।

जांजगीर-चांपा. दूसरों के स्वास्थ्य के लिए जी-जान लगा देने वाले डॉक्टर व स्टाफ इन दिनों खुद की जान बचाने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं।

दरअसल हुआ यह कि जिला अस्पताल के डॉक्टर्स कालोनी में दूषित पानी की सप्लाई हो रही है इसके कारण कालोनी में निवासरत डॉक्टर, स्टाफ नर्सेस और अन्य कर्मचारियों को उल्टी-दस्त की शिकायत है।

उल्टी दस्त से पीडि़त स्वास्थ्यकर्मियों की देखभाल के लिए  जिला अस्पताल के डॉ. एके जगत ने खुद डोर टू डोर घूमकर उनका उपचार किया। अभी भी आधा दर्जन लोगों का स्वास्थ्य खराब है।

जिला अस्पताल के सामने स्थित डॉक्टर्स और स्टाफ नर्सेस कालोनी है, जहां वर्तमान में जिला अस्पताल में पदस्थ 42 कर्मचारियों का परिवार निवासरत हैं।

आवासों में बीते एक साल से डॉक्टर, स्टाफ नर्सेस, वार्ड ब्वाय के अलावा अन्य वर्ग के कर्मचारी रह रहे हैं। इन कर्मचारियों के क्वाटर्स में जिला पंचायत कार्यालय के पीछे स्थित पानी टंकी से पानी की सप्लाई होती है,

जिसके पाइप लाइन में जगह-जगह लिकेज हो चुका है। इसके कारण घर तक पहुंचा पानी दूषित हो चुका रहता है। इसके कारण क्वार्टर में निवासरत कर्मचारियों को

उल्टी दस्त सहित अन्य कई तरह की परेशानियों से दो चार होना पड़ रहा है। कर्मचारियों ने बताया कि बीते दिवस कालोनी के स्टाफ नर्सेस एस प्रकाश के परिवार के लोगों को उल्टी-दस्त की शिकायत हो गई।

इसी तरह स्टाफ नर्सेस प्रतिभा टोप्पो को भी उल्टी-दस्त की शिकायत थी। इसके कारण उन्हें भी बेड रेस्ट लेना पड़ा। कालोनी के जयपाल बर्मन ने बताया कि पाइप

लाइन में लिकेज होने के कारण पानी दूषित हो जा रहा। इसी पानी की वजह से कालोनी के सभी लोगों में उल्टी-दस्त जैसी महामारी की शिकायत सामने आ रही है।

तीन लाख का नहीं हो पा रहा उपयोग
कालोनी में पानी की अलग से सुविधा के लिए सीएस के अकाउंट में तीन लाख रुपए पिछले दो सालों से जमा है। इस राशि से बोर खनन कराकर कालोनी में बेहतर ढंग से जलापूर्ति कराई जा सकती है,

लेकिन इसके लिए ठोस पहल नहीं की जा रही है। कर्मचारियों ने बीते दिवस सीएस से मिलकर दुखड़ा सुनाया था, लेकिन उन्होंने अपने बस की बात नहीं है कहकर टाल दी।

गौरतलब है कि फिलहाल यह कालोनी सीएमएचओ के अंडर है। उनके सुपरवीजन में ही कालोनी का मेंटेनेंस एवं अन्य सुविधाओं में इजाफा होना है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned