अब कैशबुक सहित कई दस्तावेज गायब

Piyushkant Chaturvedi

Publish: Jan, 13 2017 12:43:00 (IST)

Janjgir-Champa, Chhattisgarh, India
अब कैशबुक सहित कई दस्तावेज गायब

विद्युतीकरण के नाम पर एक फर्म को फर्जी तरीके से लाखों का भुगतान तथा गणवेश के नाम पर लाखों की हेराफेरी का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा है

जांजगीर-चांपा. विद्युतीकरण के नाम पर एक फर्म को फर्जी तरीके से लाखों का भुगतान तथा गणवेश के नाम पर लाखों की हेराफेरी का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा है

 कि राजीव गांधी शिक्षा मिशन में एक और घोटाला सामने आया है। शिक्षा मिशन के मौजूदा वर्ष का केशबुक सहित कई दस्तावेज दफ्तर से गायब है।

बताया जा रहा है कि केशबुक व अन्य दस्तावेजों के गायब होने की सूचना नवपदस्थ जिला परियोजना समन्वयक द्वारा जिला प्रशासन सहित राज्य परियोजना कार्यालय को दी गई है। इस सूचना ने प्रशासनिक महकमें में एक बार फिर हड़कंप मचा दी है।

राजीव गांधी शिक्षा मिशन के जिला परियोजना समन्वयक पीके आदित्य को विद्युतीकरण घोटाला में संलिप्त होने के कारण कुछ दिनों पहले पद से हटा दिया गया है।

इनके सहित सात लोगों के खिलाफ कोतवाली थाना में विभिन्न धाराओं के तहत एफआईआर भी पंजीबद्ध हो चुकी है।

राज्य शासन ने हाल ही में मिशन के जिला समन्वयक के पद पर शैक्षणिक जिला सक्ती के जिला शिक्षा अधिकारी आरपी आदित्य की पदस्थापना की है।

 पत्रिका को मिली जानकारी के अनुसार, नवपदस्थ जिला समन्वयक आदित्य को जिला परियोजना कार्यालय मेें वे तमाम दस्तावेज नहीं मिले हैं, जिनमें आय व्यय का हिसाब है।

यह भी पता चला है कि गणवेश प्रदायगी के एवज में कुछ माह पहले करीब पांच करोड़ का भुगतान किया गया है, जिसके कोई रिकार्ड परियोजना कार्यालय में उपलब्ध नहीं हैं।

 इसके अलावा मौजूदा वर्ष का केशबुक भी गायब होने की बात सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि पचास फीसदी दस्तावेज दफ्तर से गायब हैं, जिसकी सूचना उच्च स्तर दी गई है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned