बेटियों को बचाने चलाएंगे अभियान

Kajal Kiran Kashyap

Publish: Jun, 20 2017 01:14:00 (IST)

Jashpur nagar chhattisgarh
बेटियों को बचाने चलाएंगे अभियान

योजना की प्रभारी प्रिया सिंह ने ली बैठक, योजना के प्रसार के लिए अब पार्षद और एल्डरमैन चलाएंगें अभियान

जशपुरनगर. बेटियों के विकास के लिए केन्द्र और प्रदेश सरकार द्वारा चलाए जा रहे योजनाओं की जानकारी घर-घर तक पहुंचाने के लिए अब पार्षद और एल्डरमैन अभियान चलाएंगें। सोमवार को बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान की प्रभारी प्रिया सिंह जूदेव ने इसकी शुरू आत की। अभियान के शुरूआत के अवसर प्रिया सिंह जूदेव के कार्यालय में अभियान के शुभारंभ के अवसर पर उपस्थित पार्षद, एल्डरमैन, वार्ड समिति के अध्यक्ष व प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे।

बैठक में अभियान की जानकारी देते हुए प्रिया सिंह ने बताया कि देश में महिलाओं की स्थिति को सुधारने के लिए प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं का नया मंत्र दिया है। बेटियां जब तक शिबित नहीं होगी, वे समाज में ना तो सम्मान पा सकेगी और ना ही अधिकार का उपयोग। इसलिए केन्द्र व प्रदेश सरकार ने बेटियों को आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी ली है। उन्होने कहा कि देश में लगभग आधी आबादी महिलाओं की है, इसलिए जब तक हम महिला शक्ति का पूरा उपयोग नहीं करेंगे, तब तक देश तरक्की की राह में आगे नहीं बढ़ सकता।

उन्होंने कहा कि केन्द्र में एनडीए की सरकार बनने के बाद महिलाओं व बालिकाओं के विकास के लिए नई योजना शुरू करने के साथ ही पूर्व से चली आ रही योजनाओं के क्रियान्वयन नए सिरे से शुरू की है। सरस्वती सायकिल योजना, नि:शुल्क पुस्तक व ड्रेस जैसी कई योजनाओं के संचालन से स्कूलों में बालिकाओं की दर्ज संख्या में इजाफा हुआ है।

स्वास्थ्य विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग और शिक्षा विभाग द्वारा कई योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। इन योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए केन्द्र व प्रदेश सरकार लगातार प्रयास कर रही है। सरकार के इस प्रयास में योगदान के लिए अब बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान ने भी सहयोग देने का निर्णय लिया है। इसके तहत नगर पालिका क्षेत्र में इस अभियान की शुरूआत की जा रही है। विभिन्न विभागों द्वारा संचालित की जा रही योजनाओं को एक पम्पलेट में संकलित किया गया है। इन पम्पलेट को घर-घर तक पहुंचा कर लोगों को योजनाओं की जानकारी देनी है।

उन्होने उपस्थित पार्षद व एल्डरमैन से आग्रह किया कि अपने-अपने वार्ड में योजनाओं की जानकारी देने के साथ जरूरत मंदों को योजनाओं से जोडऩे के लिए भी पहल करें। बेटियों को संरक्षित करना और उन्हें आगे बढ़ाना हम सबकी जिम्मेदारी है। कार्यक्रम में उपस्थित पार्षद सत्येन्द्र सिंह ने कहा कि योजनाओं की जानकारी देने के साथ इनके क्रियान्वयन सही तरीके से हो, इस पर सतत नजर बनाए रखना होगा। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी एसएन पंडा, जिला कार्यक्रम अधिकारी नेहा राठिया और प्रभारी सिविल सर्जन के केरकेट्टा उपस्थित थीं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned