पेटलावद में ओढ़ी वाले बाबा का उर्स 4 मई से

Shruti Agrawal

Publish: Apr, 22 2017 12:38:00 (IST)

Jhabua, Madhya Pradesh, India
पेटलावद में ओढ़ी वाले बाबा का उर्स 4 मई से

हजरत शेर अली मस्त मस्तान ओढ़ी वाले दाता (रेअ) के आस्ताने पर लगेगा सूफी-संतों और जायरिनों का मेला

पेटलावद. सर्वधर्म, अमन-चैन और कोमी एकता का प्रतीक शहंशाहे पेटलावद हजरत शेर अली मस्त मस्तान ओढ़ी वाले दाता (रे.अ.) के सालाना उर्स 4 मई से होगा।
 पंपावती नदी के किनारे स्थित दरगाह न केवल मुस्लिम समुदाय बल्कि अन्य धर्म के लोगों के लिए भी आस्था और शांति-सोहार्द्र का केंद्र माना जाता है। उर्स 6  मई तक चलेगा। तीन दिनों तक विभिन्न धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन होगा। रात में कव्वाली की महफिल सजेगी। हजरत ओढ़ी वाले दाता की दरगाह करीब 300 साल पुरानी प्राचीन बताई गई है। हजरत दातार के मजार पर विगत 12 वर्षो से उर्स का प्रोग्राम किया जा रहा हैं।
जोर-शोर से की जा रही हैं तैयारियां
उर्स कमेटी के सदर अमजद लाला, सचिव सादीक बागबान, नायब सदर जावेद लोधी, शाकिर शेख ने बतायाकि कमेटी के सदस्यों द्वारा उर्स के लिए तैयारियां जोर-शोर से की जा रही है। जायरीनों के लिए पानी की व्यवस्था अलग से रहेगी। जो समाजसेवी बाबूलाल काग के प्रियंका ऑरो वॉटर से होगी। कव्वाली की महफिल में फेमस अली का लाडला हुसैन और मेरे पीर की गुलामी मेरे काम आ गई कव्वाली पढऩे वाले देश के प्रसिद्ध कव्वाल असलम अकरम वारसी मुरादाबाद (उत्तरप्रदेश) और मुकर्रम वारसी भोपाल (मप्र) की कव्वाल पार्टिया अपने मशहूर कलाम पेश करेंगे।
यह होगा आस्ताने औलिया पर
4 मई: सुबह 8 बजे आस्ताने औलिया पर कुरआन वानी होगी। दोपहर जोहर नमाज के बाद गैबनशाह वली दाता (हुसैनी चौक) के आस्ताने से चादर शरीफ का जुलूस निकलेगा। जो नगर के प्रमुख मार्गों से होते हुए आस्ताने औलिया पर पहुंचेगा। जहां संदल और चादर पेश की जाएगी। रात 9 बजे इमाम अब्दुल खालिक साहब और हाफिज अब्दुल कादीर रिजवी तकरीर फरमाएंगे। 5 मई: रात 9 बजे बाद शुरू होने वाले महफिले समां कार्यक्रम में देश के प्रसिद्ध कव्वाल असलम अकरम वारसी मुरादाबाद (उप्र) और मुकर्रम वारसी भोपाल (मप्र) की कव्वाल पार्टियां प्रस्तुति देगी। 6  मई: सुबह 9 बजे महफिले रंग व कुल की फातेहा होगी। इसमें दोनो कव्वाल पार्टी रंग पढ़ेगी। दोपहर बाद लंगर (विशाल भंडारा) का आयोजन किया जाएगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned