रुपयों की धरपकड़ से व्यापारी परेशान, कलेक्ट्रेट में किया प्रदर्शन 

Lucknow, Uttar Pradesh, India
रुपयों की धरपकड़ से व्यापारी परेशान, कलेक्ट्रेट में किया प्रदर्शन 

आचार संहिता की निगरानी के दौरान जगह-जगह व्यापारियों के रुपये पकड़े जाने से व्यापारी परेशान है

झांसी. आचार संहिता की निगरानी के दौरान जगह-जगह व्यापारियों के रुपये पकड़े जाने से व्यापारी परेशान है। दो महीने की नोटबंदी की मार झेलकर निकले व्यापारी अब आचार संहिता की सख्ती से परेशान हैं। झांसी में परेशान व्यापारियों ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर डीएम को ज्ञापन देकर राहत दिए जाने की मांग की। 

व्यापारियों ने जिला प्रशासन को सौंपे गए ज्ञापन में कहा है कि केंद्र सरकार ने ढाई लाख रुपये तक की धनराशि पर किसी तरह की पूछताछ से छूट दे रखी है। व्यापारियों को भी दो लाख रुपये लाने या ले जाने का अधिकार मिलना चाहिए। व्यापारी हर रोज शहर से देहात और देहात से शहर व्यापारिक गतिविधियों के लिए आवागमन करते हैं। इस दौरान लेन देन की प्रक्रिया भी होती है और वे रुपये व्यापारी के पास रहते हैं। पुलिस की चेकिंग और 50 हजार से अधिक की धनराशि पकड़े जाने से व्यापारी खौफ में हैं। व्यापारियों ने मांग की है कि उन्हें दो लाख रुपये तक की धनराशि परिवहन की छूट दी जाये। 

उत्तर प्रदेश व्यापार मंडल के बैनर तले व्यापारियों ने अपर जिला अधिकारी और अपर पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन देकर व्यापारियों की समस्या पर ध्यान देने की मांग की है। उत्तर प्रदेश व्यापार मंडल के अध्यक्ष संजय पटवारी, महामंत्री जीतेन्द्र अग्रवाल, संतोष साहू, प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश बिरथरे, व्यापारी सेना के जिला प्रमुख शकील खान, नगर संयोजक चौधरी फिरोज, महासचिव  कुलदीप सिंह दांगी सहित प्रभू दयाल साहू, गौरव लिखधारी, प्रदीप गुप्ता, सुनील नैनवानी, पंकज शुक्ला, सौरभ हयारण, प्रदीप अग्निहोत्री, अजय चड्ढा, सुनील गुप्ता, विनोद लिखधारी, बंटी खटीक  व अन्य व्यापारी ज्ञापन के दौरान मौजूद रहे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned