अखिलेश की पत्नी डिंपल यादव के निर्विरोध निर्वाचन की जांच शुरू 

Ashish Pandey

Publish: Jul, 17 2017 03:48:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
अखिलेश की पत्नी डिंपल यादव के निर्विरोध निर्वाचन की जांच शुरू 

अखिलेश के सीएम बनने के बाद कन्नौज लोकसभा की सीट खाली हो गई थी, जहां से सपा ने डिंपल को मैदान में उतारा था। 

कन्नौज. सीबीसीआईडी ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी और कन्नौज से लोकसभा सांसद डिंपल यादव के निर्विरोध निर्वाचन की जांच शुरू कर दी है। पांच वर्ष पहले यहां लोकसभा के उपचुनाव में पूर्व वर्तमान में सांसद डिंपल यादव के निर्विरोध निर्वाचित होने के मामले में जांच शुरू हो गई है। सीबीसीआइडी टीम ने जिले में डेरा डाल दिया है। टीम ने कई मीडिया कर्मियों और राजनीतिक दलों से जुड़े लोगों के साथ स्थानीय नागिरकों के भी बयान दर्ज किए। सीबीसीआईडी की रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को जल्द ही सौंप दी जाएगी। जांच के दायरे में कई अधिकारी भी हैं।

यह भी पढ़ें-राष्ट्रपति चुनाव: अखिलेश यादव ने भी नहीं दिया मीरा कुमार को वोट 
2012 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को यूपी में जनता का भरपूर समर्थन मिला। इसके बाद कन्नौज से सांसद अखिलेश यादव को विधानसभा दल का नेता चुना लिया गया और वे यूपी के मुख्यमंत्री बने। उनके सीएम बनने के बाद कन्नौज लोकसभा की सीट खाली हो गई। यहां से वर्ष 2012 में अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को उपचुनाव में उतारा गया। नामांकन के अंतिम दिन तक किसी के पर्चा न दाखिल करने पर वह निर्विरोध निर्वाचित हो गईं। इसको लेकर वोटर्स इंटरनेशनल पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भरत गांधी ने कोर्ट में याचिका दायर कर आरोप लगाया था कि उनकी पार्टी समेत सभी प्रत्याशियों को बंधक बना लिया गया।
कोई नामांकन दाखिल नहीं कर सका। कोर्ट के आदेश पर अब सीबीसीआईडी जांच शुरू की गई है। रविवार को सीबीसीआईडी कानपुर सेक्टर के निरीक्षक नवीन चंद्र कटियार व उनके सहयोगी सुबोध कटियार यहां आए और कई मीडिया कर्मियों, राजनीतिक दलों से जुड़े लोगों के साथ ही स्थानीय लोगों के भी बयान लिए। सीबीसीआईडी की टीम देर रात तक जिले में घूमती रही। अलग-अलग दर्जन भर लोगों से बयान दर्ज किए गए। अब जांच रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई होगी। जांच टीम ने बताया कि बयान दर्ज किए जा रहे हैं, इससे ज्यादा जानकारी देने से इन्कार कर दिया। गौरतलब है मौजूदा समय में भी डिंपल यादव कन्नौज से ही लोकसभा सांसद हैं।
 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned