अपहरण के बाद बंधक बना महीनों हुआ गैंगरेप फिर कर दिया सौदा और हो गयी गर्भवती

Ashish Pandey

Publish: Jun, 20 2017 09:18:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
अपहरण के बाद बंधक बना महीनों हुआ गैंगरेप फिर कर दिया सौदा और हो गयी गर्भवती

60 हजार रूपए में बेंचा, पांच माह की गर्भवती महिला घर पहुंची। तहसील दिवस में फफक-फफक कर रोई महिला, फिर भी सुनवाई नहीं।

कन्नौज. कन्नौज में दबंगों ने महिला का अपहरण कर महीनों उसके साथ गैंगरेप किया और उसके बाद महिला को साठ हजार रुपए में बेंच दिया। एक साल दो माह बाद चंगुल से छूटी करीब पांच माह की गर्भवती महिला अपने घर पहुंची। तब से आरोपियों के खिलाफ  कार्रवाई के लिए भटक रही है। मंगलवार को तहसील दिवस में जब महिला का प्रार्थना पत्र स्वीकार नहीं किया गया तो महिला रो पड़ी। 

कन्नौज के इन्दरगढ़ थाना क्षेत्र के निकारीपुरवा की रहने वाली सावित्री (काल्पनिक नाम) ने बताया कि उसको 06.11.2015 की रात्रि गांव के ही रहने वाले विमल कुमार, राकेश कुमार व अशोक कुमार जबरदस्ती असलहों की दम पर अपहरण कर उठा ले गये और नोएड फेज-2 ले जाकर एक कमरे में बन्धक बनाकर बारी-बारी से बलात्कार करते रहे, जिसके बाद जब इन लोगों की मुझसे इच्छा भर गयी तो इन लोगों ने मुझे 60 हजार रुपये में कन्नौज लाकर सौरिख के समाधान नगला निवासी विवेक के हाथों बेंच दिया। जिसके बाद विवेक ने भी उसकी बिना मर्जी के उसके साथ बलात्कार किया और अपने घर पर जबरन कैद में रखकर जबरन बलात्कार करता रहा और जान से मारने की धमकी देकर सादे कागजात पर हस्ताक्षर ले लिए।

मुकदमा दर्ज कर लिया पर नहीं हुई किसी आरोपी की गिरफ्तारी
 जिसके बाद दिनांक 23.03.2017 को पीडि़ता ने मौका देखकर भागकर अपनी जान बचाई और अपनी आप बीती अपने पति को बताई जिसके बाद महिला ने पुलिस से कार्यवाही की मांग की, लेकिन स्थानीय पुलिस ने महिला की मदद नहीं की, जिससे आजिज आकर महिला ने पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाई जिसपर 25.05.2017 को मुकदमा दर्ज कर लिया गया, लेकिन अभी तक किसी की भी पुलिस ने गिरफ्तारी नहीं की और महिला इस बलात्कार के मामले में गर्भवती भी हो गयी। महिला के पेट में 6 माह का बच्चा है। जिससे महिला पुन: तहसील दिवस में न्याय मांगने पहुंची जहां पुलिस अधीक्षक ने प्रार्थनापत्र लेकर महिला के पूरे प्रकरण की जांच करते हुए आश्वासन दिया है। एसपी का यह भी कहना है कि सभी साक्ष्यों की जांच की जायेगी जैसा कि महिला ने प्रार्थनापत्र में दिया है, तथ्यों के आधार पर कार्यवाही की जायेगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned