इंदौर-पटना एक्सप्रेस हादसे की दोबारा हुई जांच, जानिए क्या निकले परिणाम

Abhishek Gupta

Publish: Dec, 01 2016 08:38:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
 इंदौर-पटना एक्सप्रेस हादसे की दोबारा हुई जांच, जानिए क्या निकले परिणाम

भयावह हुए इस हादसे की हकीकत जाने को हर कोई बेताब सा दिख रहा है। जिसको पता करने के लिए मंत्रालय द्वारा कमिश्नर सेफ्टी रेलवे को लगाया गया है।

कानपुर. रेल हादसे की जाँच के चलते एक बार फिर बयानों को लिए जाने का दौर शुरू हो गया है, जिसके लिए जाँच कर रहे कमिश्नर सेफ्टी रेलवे पीके आचार्य शहर के रेलवे स्टेशन में मौजूद है, लेकिन लगातार चौथी बार हो रही इस जाँच में इस बार उनके साथ भारी भरकम इंजीनियरों की टीम है जिसने न केवल घटनास्थल पहुंचकर जायजा लिया बल्कि घटना से जुड़े कई लोगों से बयान भी लिए।

बीस नवंबर की वो काली सुबह जिसने न जाने कितने लोगों के घरों की रौशनी छीन ली। और कई बच्चो के सर से उनके माँ बाप का हाथ हमेशा हमेशा के लिए उठा दिया। कानपुर देहात के भोगनीपुर की दलेल नगर क्रासिंग के पास हुयी इस घटना में इंदौर से आ रही इंदौर पटना एक्सप्रेस की चौदह बोगियां चकना चूर हो गयी थी और दुर्घटना के बाद तीन दिनों तक चले रेस्क्यू ऑपरेशन में मरने वालों की संख्या 150 हो गयी थी। साथ ही दो सौ से अधिक यात्री घायल हो गए थे। ऐसे ही भयावह हुए इस हादसे की हकीकत जाने को हर कोई बेताब सा दिख रहा है। जिसको पता करने के लिए मंत्रालय द्वारा कमिश्नर सेफ्टी रेलवे को लगाया गया है। 

इन्होंने हादसे के दो दिन बाद ट्रेन चालक और परिचालक से पूछताछ करते हुए जाँच शुरू की थी। जाँच के चरण का दौर लगातार तीन दिन तक चला था। लेकिन एक बार फिर चौथी बार जाँच की शुरुवात की गयी है, जिसको लेकर विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। वहीँ सेन्ट्रल स्टेशन के डिप्टी सी टी एम के बंद कमरे में 41 लोगों से गहन पूछताछ की गयी। साथ ही कई अन्य बिन्दुओं पर भी ध्यानाँकित किया जा रहा है। सीआरएस द्वारा की जा रही जांच के बीच यह भी अंदाजा लगाया जा रहा है कि आरडीएसओ कार्यालय में चल रही दुर्घटना ग्रसित ट्रेन के सैम्पलों की जाँच जल्द ही आ जाएगी। जिसके बाद हादसे के राज पर से पर्दा उठ जायेगा और यह साफ़ हो जायेगा कि हादसा मानवीय कारणों से हुआ है कि किसी अन्य खामियों की वजह से।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned