1242 परिवारों का पूरा होगा स्वयं के मकान का सपना

sudhir shrivas

Publish: Apr, 22 2017 12:54:00 (IST)

katni
1242 परिवारों का पूरा होगा स्वयं के मकान का सपना

आईएचएसडीपी योजना में अधूरे मकान से आबंटन के बाद भी नहीं मिल रहा हितग्राहियों को मकान

कटनी। इंटीग्रेटेड हाउसिंग एंड स्लम डेवलपमेंट प्रोग्राम (आईएचएसडीपी) योजना में निगम ठेकेदारों के कार्य की गति ठीक ठाक रही तो शहर के कम आय वाले व्यक्तियों को जल्द ही स्वयं के मकान का सपना पूरा होगा। दरअसल नगर निगम द्वारा आईएचएसडीपी योजना में शहर के 1492 परिवारों को मकान आबंटित किया गया था। दो साल पहले हुए आबंटन में अब तक करीब 250 परिवारों को ही स्वयं का मकान मिल सका। इस योजना में 1242 परिवार आबंटन के बाद भी स्वयं के मकान का सपना संजोए बैठे हैं। इन्हें जल्द मकान मिल जाए इसके लिए निगम ने प्रयास तेज कर दिए हैं। 

ये हैं समस्याएं
आबंटन के बाद भी परिवारों को स्वयं का मकान नहीं मिलने का प्रमुख कारण है अधूरे मकान। ज्यादातर मकान में दरवाजे, खिड़की व शौचालय नहीं बने हैं। इस कारण आबंटन के बाद भी परिवारों को स्वयं के मकान का सपना पूरा नहीं हो रहा है। 

ये है स्थिति
- पडऱवारा में बने मकान में अब गति आ रही है। 
- प्रेमनगर में अधूरे मकान को पूरा करने निर्देश दिए गए हैं। 
- कृषि उपज मंडी के समीप सरलानगर में 411 मकान का काम प्रगति पर है।

प्रयास है जल्द दिलाएं पजेशन : महापौर
महापौर शशांक श्रीवास्तव ने बताया कि आईएचएसडीपी योजना में जिन्हें मकान आबंटित हुआ है, उनको जल्द से जल्द मकान मिल जाए, इसके लिए प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए शुक्रवार को उन स्थानों का निरीक्षण किया गया, जहां मकान बन रहे हैं। इसके लिए निगम कर्मचारियों व ठेकेदार को निर्देश दिए गए हैं कि मकान का काम जल्द पूरा कराएं। साथ ही नागरिकों को भी बताया जा रहा है कि जिन्हें जो मकान आबंटित हुआ है, वे स्वयं मौके पर जाकर जल्द काम करवाने कह सकते हैं। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned