बारिश के बाद डायरिया फैला, तीन दर्जन बीमार

Kaushambi, Uttar Pradesh, India
  बारिश के बाद डायरिया फैला, तीन दर्जन बीमार

डीएम के निर्देश पर गांव पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम ने शुरू किया उपचार

कौशांबी. लगातार कई दिनों तक हुई बारिश थमने के बाद अब डायरिया के कहर से ग्रामीण परेशान होने लगे हैं। जिला मुख्यालय मंझनपुर से महज तीन किमी दूर बसे बसोहनी गांव मे डायरिया की चपेट मे आने से लगभग तीन दर्जन लोग बीमार हो गए हैं। दर्जनों लोगो के बीमार होने की सूचना ग्रामीणों ने स्वास्थ्य महकमे को दिया लेकिन कोई झांकने तक नहीं पहुंचा।

Diarrhea havoc

गांव मे डायरिया फैलाने की जानकारी ग्रामीणों ने सीधे जिलाधिकारी को दिया, इसके बाद जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग की टीम को गांव भेजा जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गांव में कैंप लगाकर पीड़ितों का उपचार शुरू किया।

Diarrhea havoc




सामान्य रोगियों को दवायें दी गई जबकि गंभीर रूप से पीड़ितों का खून आदि जांच के लिए भेजा गया। इसके अलावा गांव मे फैली गंदगी पर दवाओं का छिड़काव भी कराया गया, पीड़ितों की जांच करने गांव पहुंचे डाक्टरों की टीम की माने तो बीमारी प्रदूषित पानी व गंदगी से फैली है।

यह भी पढ़ें:
डायरिया का कहर, अब तक दो की मौत, 24 बीमार

जिला मुख्यालय मंझनपुर से महज तीन किमी दूरी पर बसे बसहोनी गाँव मे पिछले पांच दिनों से डायरिया का प्रकोप फैला हुआ है। पीड़ितों ने स्थानीय झोलछाप डाक्टरों से दवा लिया लेकिन बीमारी घटने के बजाय बढ़ती गई। इस पर गांव के एक युवक ने जिलाधिकारी को डायरिया की जानकारी दिया, गांव में तीन दर्जन से अधिक लोगों के बीमार होने की जानकारी होने पर डीएम ने स्वास्थ्य विभाग की टीम को गांव भेजा।

Diarrhea havoc


सीएचसी सिराथू स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पीड़ितों को दवा देने के साथ ही खून का सैंपल भी लिया। गांव में फैली गंदगी पर दवा का छिड़काव किया गया, इसके अलावा कुआं के पानी की भी जांच की गई। ग्रामीणों को बीमारी से बचाने के सुझाव भी दिये गए। सीएचसी अधीक्षक सिराथू डॉ. हेमंत विसेन का कहना है कि प्रदूषित पानी व गांव में फैली गंदगी से डायरिया की शिकायत ग्रामीणों ने की है। पीड़ितो को दवा दिया गया है और सभी पीड़ितों की हालत सामान्य है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned