ठंड ने तोड़ा 14 साल का रिकार्ड

Editorial Khandwa

Publish: Jan, 14 2017 03:00:00 (IST)

Khargone, Madhya Pradesh, India
ठंड ने तोड़ा 14 साल का रिकार्ड

निमाड़ की तासीर गर्म है यहां थोड़ी भी सर्दी लोगों के लिए परेशानी बन जाती है। बावजूद इसके शहर में तापमान लगातार गिर रहा है, बच्चों को स्कूल के समय में राहत दी जाए। यह बात एबीवीपी कार्यकर्ताओं और अभिभावकों ने कलेक्टर के नाम सौंपे ज्ञापन में कही है।

खरगोन. तीक्ष्ण गर्मी के लिए प्रसिद्ध निमाड़ में अब सर्दी के भी रिकार्ड तोड़ रहा है। खरगोन में शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 3.5 डिसे दर्ज किया गया। जबकि अधिकतम तापमान तीन दिनों से 23.8 पर स्थिर है। 14 साल के इतिहास में पहली बार निमाड़ में ऐसी ठंड पड़ी है। हाड़ कंपकपाने वाली सर्दी में भी बच्चों को तड़के स्कूल भेजने पर मजबूर अभिभावकों और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को कलेक्टर के नाम सौंपकर स्कूल के समय परिवर्तन की मांग की है। 26 दिसंबर 2015 को खरगोन में 12 साल के इतिहास में सबसे कम तापमान 3.8 डिसे दर्ज किया गया था। वहीं अधिकतम तापमान 25.5 डिसे था। जबकि 13 जनवरी को दर्ज अधिकतम और न्यूनतम दोनों ही उससे भी कम हैं। लगातार गिर रहे पारे से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। दिनभर चल रही सर्द हवाओं से बाजार में चहल-पहल पर भी असर पड़ा है।

स्कूल समय परिवर्तन की मांग
निमाड़ की तासीर गर्म है यहां थोड़ी भी सर्दी लोगों के लिए परेशानी बन जाती है। बावजूद इसके शहर में तापमान लगातार गिर रहा है, बच्चों को स्कूल के समय में राहत दी जाए। यह बात एबीवीपी कार्यकर्ताओं और अभिभावकों ने कलेक्टर के नाम सौंपे ज्ञापन में कही है। सुबह की पारी में जिले के सभी विद्यालयों की सुबह की पारियों में समय में परिवर्तन किया जाए ताकि बच्चों को इस कड़कड़ाती ठंड से राहत मिल सके। वहीं पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजीजुद्दीन शेख ने भी विधायक को ज्ञापन सौंपकर समय परिवर्तन के लिए प्रशासन पर दबाव बनाने की मांग की है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned