ट्रैक्टर पर सवार होकर एमपी की सड़कों पर क्यों निकले अक्षय

khargone
ट्रैक्टर पर सवार होकर एमपी की सड़कों पर क्यों निकले अक्षय

मुंबई से करीब 550 किमी दूर मध्यप्रदेश के महेश्वर में फिल्म पैडमैन का क्लाइमैक्स शॉट फिल्माया गया। कहानी के मुताबिक लक्ष्मीकांत चौहान का रोल कर रहे अक्षय कुमार जब महिलाओं के लिए सैनेटरी पैड मशीन बनाकर पद्मश्री मिलने के बाद लौटते हैं तो स्थानीय लोग महेश्वर में उनका जुलूस निकालकर स्वागत करते हैं। 

महेश्वर (खरगोन). ट्रैक्टर पर सवार अक्षय कुमार उनके आगे पीछे नाच-गाकर जयकारे लगा रहे लोग। यह दृश्य है गुरुवार सुबह महेश्वर के चौक बाजार का। यहां फिल्म पैडमैन की शूटिंग के दौरान फिल्म का क्लाइमेक्स फिल्माया गया। फिल्म की स्टोरी की मुताबिक  लक्ष्मीकांत बने अक्षय कुमार को महिलाओं की समस्या पर काम करने और सस्ते सैनेटरी नैपकिन बनाने पर देश में सम्मान मिलता है तो खुशी में महेश्वर कस्बे के लोग जूलूस निकालते हैं। पूरे नगर को महेश्वर का हृदय सम्राट मध्यप्रदेश की जान लक्ष्मीकान्त चौहान के लगे नारे लिखे पोस्टर और बैनर से पाट दिया गया था। इस जुलूस में महिलाओं का मसीहा कैसा हो लक्ष्मी भाई जैसा हो, महिलाओं का सुपरमैन लक्ष्मीकांत पैडमैन जैसे नारे के साथ फि ल्म का महत्वपूर्ण शॉट फिल्माया गया। लोग लक्ष्मीकांत पैडमैन के सम्मान के बोर्ड हाथों मे लेकर नाचते हुए जुलूस के रूप में आगे पीछे चल रहे थे। 
Exclusive picture of Akshey kumar and Radika apte
फिल्म के इस भाग की शूटिंग महेश्वर के चौक बाजार में की गई। जुलूस में क्राउड के रूप में स्थानीय लोगों को भागीदारी का भी मौका मिला। लोग इससे खुश थे कि उन्हें अक्षय कुमार को इतनी करीब से देखने का मौका मिला। इस शॉट के लिए सुबह 9 बजे से चौक बाजार को पूरी तरह सील कर दिया गया था। 




निमाड़ में करीब 40 दिन शूटिंग होनी है
फिल्म की शूटिंग में जहां स्थानीय दुकानें और मकान नजर आएंगे। यह जुलूस नगर के मुख्य मार्ग से होकर अहिल्या किले पर बनाए गए लक्ष्मीकांत के घर तक पहुंचा। गौरतलब है कि ट्विंकल खन्ना की किताब 'द लीजेंड ऑफ लक्ष्मी प्रसादÓ पर आर बाल्की के निर्देशन में बन रही इस फिल्म की निमाड़ में करीब 40 दिन शूटिंग होनी है। फिल्म में अक्षय की पत्नी का रोल राधिका आप्टे कर रही हैं। इसमें अमिताभ बच्चन और सोनम कपूर भी मुख्य भूमिकाओं में हैं। 

नम आखों ने पत्नी ने किया स्वागत
फिल्म का अगला हिस्सा राधिका आप्टे और अक्षय कुमार के बीच इमोशन रोमांटिक सीन के रूप में फिल्माया गया। लक्ष्मीकांत (अक्षय कुमार) की पत्नी गायत्री (राधिका आप्टे) पति के सम्मान में भीगी आखों के आंसू पति अक्षय पोंछते हैं। अक्षय अपने गले में डली मालाएं उतारकर पत्नी गायत्री के गले में डाल देते हैं। एक दूसरे के गले मिलकर अपने घर की और बढ़ते हैं। सूत्रों की मानें तो यह फिल्म का क्लाइमेक्स सीन हो सकता है। 


Exclusive picture of Akshey kumar get up in Padman

पैड का निर्माण कर बनते हैं पैडमैन
अक्षय फिल्म में महिलाओं की परेशानी को दूर करने के लिए सस्ते सैनेटरी पैड बनाते हैं। इस दौरान उन्हें समाज का काफी विरोध भी सहना पड़ता है। अंत में उन्हें इसी कार्य के लिए पद्मश्री अवार्ड मिलता है तो लोगों को भी एहसास हो जाता है की वो उनकी सनक नहीं है वो वाकई महिलाओं के लिए जरूरी है। लोग उनके सम्मान में शरीक होते हैं गांव वाले जुलूस निकालते हंै और उनके हाथ में पैडमैन के सम्मान के नारे लिखी तख्तियां होती हैं।

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned