आटे की आड़ में शराब की तस्करी

Editorial Khandwa

Publish: Dec, 02 2016 02:19:00 (IST)

khargone
आटे की आड़ में शराब की तस्करी

घाट पर पलटा ट्रक तो सामने आई शराब की तस्करी

झिरन्या/ चिरिया. चित्तौड़-भुसावल स्टेट हाईवे अवैध धंधे और कारोबारियों के लिए स्वर्ग बन गया है। इस मार्ग से गोवंश और अवैध शराब की तस्करी जोरों से चल रही है। बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात्रि में शराब से भरा ट्रक (एमपी09, एचएफ-256 7 ) झिरन्या से करीब 15 किमी दूर झगड़ी घाट में अनियंत्रित होकर पलट गया। ट्रक में बड़ी मात्रा में शराब भरी हुई थी। इस शराब को आटे से भरी बोरियां के बीच छिपाकर रखा गया था। आशंका जताई जा रही है कि आटे की आड़ में ही अवैध शराब का परिवहन किया जा रहा था। गुरुवार सुबह नर्सरी के चौकीदार परम पिता सुभान ने ट्रक को पलटा देखा, तो उसकी सूचना पुलिस और आबकारी विभाग को दी गई। दुर्घटना के बाद ट्रक चालक फरार हो गया। आबकारी अधिकारियों द्वारा ट्रक की तलाशी लेने पर दस्तावेज के अलावा शराब परिवहन से संबंधित कोई परमिट या ट्रांजिट पास आदि नहीं मिला।

विस्की और बीयर की पेटियां मिली
शराब भरकर ट्रक कहां से किस ओर जा रहा था, इसका पता नहीं चल पाया है। ट्रक मालिक का नाम रामविलास निवासी इंदौर बताया जा रहा है। ट्रक के पिछले हिस्से में आटे की बोरियां रखी हुई थी तथा पूरा हिस्सा तिरपाल से ढंका हुआ था। आबकारी अधिकारियों के मुताबिक ट्रक में बांबे स्पेशल ब्रांड की विस्की और बीयर की पेटियां भरी हुई थीं। ट्रक के ऊंचाई से गिरने पर कई पेटियां टूट-फूट गई। जबकि 80 पेटी शराब सलामत मिली। जिसे आबकारी अमले ने कब्जे में लिया है।

अधिकारी भी नहीं दे पाए जानकारी
ट्रक में रखी शराब लाइसेंसी ठेके की थी या किसी अन्य स्थान पर भेजी जा रही थी, यह स्पष्ट नहीं हो पाया है। आबकारी अधिकारी भी इस संबंध में खुलकर बोलने को तैयार नहीं। खाई में गिरे ट्रक से शराब की पेटियां ऊपर लाने के लिए आबकारी अधिकारियों ने झिरन्या तथा आसपास के करीब 20- 25 मजदूरों का सहारा लिया। गुरुवार देर शाम तक आबकारी अमला शराब की पेटियां खाली करने में जुटा रहा।

परमिट नहीं...
आबकारी निरीक्षक, महेश झा का कहना है कि ट्रक की तलाशी लेने पर परमिट व ट्रंाजिट पास नहीं मिला। आशंका है कि पूरी शराब अवैध है। अभी यह तय नहीं हो पाया कि शराब भरकर ट्रक कहां जा रहा था। शराब व ट्रक को जब्ती में लिया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned