इलाके में सक्रिय इंट्री माफिया, सरकार को लगा रहे चूना

Indresh Gupta

Publish: Nov, 30 2016 05:00:00 (IST)

Kishanganj, Bihar, India
इलाके में सक्रिय इंट्री माफिया, सरकार को लगा रहे चूना

इंट्री माफिया के खिलाफ स्थानीय पुलिस द्वारा छेड़े गए मुहिम का स्थानीय लोगों ने स्वागत किया है।

किशनगंज। जिले में इन दिनों कोयला माफिया सक्रीय हो गए है। इलाके में सक्रिय इंट्री माफिया व अधिकारियों के गठजोड़ से इन दिनों सरकार को चूना लगाने का कार्य धड़ल्ले से जारी है। असम से कोयला लेकर अन्य प्रदेशों में स्थित ईंट भट्टों तक पहुंचाया जाता है।

सरकारी नियमों के अनुसार एक राज्य से कोयले को अन्य प्रदेश ले जाने के लिए सेल टैक्स विभाग को पांच प्रतिशत कर चुकाने का प्रावधान है और यह सारी प्रक्रिया आन लाइन होती है। परंतु इलाके में सक्रिय इंट्री माफिया कर चोरी करने के लिए नित नए नए तरीकों का इस्तेमाल करते हैं।

गत शनिवार को एसडीपीओ कामिनी बाला के द्वारा गुप्त सूचना के आधार पर धरमगंज चौक के निकट दबोचे गए चार आवरलोड कोयला ट्रक चालकों से पूछताछ के बाद मामले का सनसनीखेज खुलासा संभव हो सका। ट्रक चालकों ने बताया कि असम से कोयला लेकर निकलने के दौरान काफिले में शामिल किसी एक या दो ट्रकों के वैध कागजात तैयार कर लिए जाते हैं।

इन्हीं कागजातों के सहारे काफिले में शामिल अन्य ट्रकों को पास करा लिया जाता है। दुर्भाग्यवश किसी ट्रक के पकड़े जाने के दौरान उन्हें इन कागजातों के सहारे छुड़ा लिया जाता है। अगर इससे भी बात नहीं बनी तो इलाके में सक्रिय इंट्री माफिया
मदद को आगे आ जाते हैं।

ट्रक चालकों ने बताया कि इंट्री माफिया का सशक्त नेटवर्क में राजनेताओं, सफेदपोशों व दबंग लोगों के शामिल रहने के कारण पुलिस व सेलटैक्स विभाग के अधिकारी भी उन पर हाथ डालने से कतराते हैं। सभी ट्रकों के मालिक के साथ साथ गाड़ी ऐजेंट मु. अरशद आलम, सीलमपुर, बलरामपुर, कटिहार निवासी को भी सह अभियुक्त बनाते हुए उनकी तलाश में जुट गई है।

बहरहाल इंट्री माफिया के खिलाफ स्थानीय पुलिस द्वारा छेड़े गए मुहिम का स्थानीय लोगों ने स्वागत किया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned