नीतीश का फरमान, राज्य के बाहर भी शराब पीने पर सख्त सजा

Shribabu Gupta

Publish: Feb, 16 2017 06:27:00 (IST)

Kishanganj, Bihar, India
नीतीश का फरमान, राज्य के बाहर भी शराब पीने पर सख्त सजा

इससे संबंधित एक नया कानून बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने निकाल दिया है। इसके खिलाफ और भी सख्त कानून पारित किया है...

किशनगंज। बिहार में शराबबंदी के बाद शराबियों ने एक नई योजना निकाल ली थी। वे बिहार के बाहर जाकर शराब पीते थे और मजे से अपने घर आ जाया करते थे। लेकिन इससे संबंधित एक नया कानून बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने निकाल दिया है। इसके खिलाफ और भी सख्त कानून पारित किया है।

कैबिनेट सचिवालय के प्रधान सचिव ब्रजेश मेहरोत्रा ने बताया कि सरकार की आचार संहिता नियमावली में शराब और प्रतिबंधित मादक औषधि नहीं पीने का प्रावधान किया गया है। इसमें स्पष्ट किया गया है कि सरकारी सेवक उक्त पदार्थों का सेवन नहीं करेंगे।

जानकारी के अनुसार राज्य सरकार के कर्मचारियों के लिए कैबिनेट ने एक प्रस्ताव पास किया है इसके तहत वे न सिर्फ बिहार में बल्कि राज्य के बाहर भी कहीं शराब नहीं पी सकते। राज्य सरकार के कर्मी और न्यायिक सेवा के पदाधिकारी अगर शराब पीते हैं तो यह आचार संहिता का भी उल्लंघन माना जाएगा और ऐसे लोगों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

पहले राज्यकर्मियों के आचार संहिता में ड्यूटी के दौरान और पब्लिक प्लेस पर शराब पीने (बिहार) की मनाही थी। अब यह नियम बिहार से बाहर तैनाती के दौरान भी राज्यकर्मियों पर लागू होगी। इस संबंध में बिहार सरकारी सेवक और आचार नियमावली 1976 और बिहार जुडिशियल ऑफिसर्स कंडक्ट रूप 2017 में संशोधन किया गया है। बुधवार को कैबिनेट की बैठक में इस संशोधन की मंजूरी दे दी गई है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned