निजी अस्पतालों की बिलिंग पर लगाम की तैयारी

Paritosh Dube

Publish: Feb, 16 2017 09:23:00 (IST)

Kolkata, West Bengal, India
निजी अस्पतालों की बिलिंग पर लगाम की तैयारी

विधायकों के इलाज के बेलगाम बिल की सूचना पाकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने निजी अस्पतालों पर लगाम कसने की तैयारी शुरू कर दी है

कोलकाता

विधायकों के इलाज के बेलगाम बिल की सूचना पाकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने निजी अस्पतालों पर लगाम कसने की तैयारी शुरू कर दी है। बिल की जांच के लिए विधानसभा अध्यक्ष विमान बनर्जी ने मंगलवार को ही चार डॉक्टरों की एक जांट टीम गठित की है। दूसरी ओर राज्य के उपभोक्ता मामलों के मंत्री साधन पाण्डे ने इस मुद्दे पर निजी अस्पतालों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करने की घोषणा की है।
साधन पाण्डे ने कहा कि निजी अस्पताल मरीजों से बेहिसाब पैसे ले रहे हैं। इलाज का पैकेज देने के बाद भी बिल बढ़ा दे रहे हैं। वे निजी अस्पताल प्रबंधकों की सुओ-मोटो बैठक बुलाएंगे। बैठक 20 फरवरी को विधानसभा बजट सत्र खत्म होने के बाद आयोजित की जाएगी। बैठक में निजी अस्पताल प्रबंधन से एक ही तरह के इलाज के लिए अलग-अलग मरीज से अलग-अलग रकम लिए जाने का जवाब मांगा जाएगा। उसके बाद वे राज्य के स्वास्थ्य विभाग को रिपोर्ट सौपेंगे।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवा है व्यवसाय नहीं है। इस क्षेत्र को बेलगाम नहीं छोड़ा जा सकता।
निजी अस्पतालों के बेलगाम बिल बनाने की सूचना पाकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गत सोमवार को विधानसभा अध्यक्ष से इस बारे में बातचीत की। सूत्रों ने बताया कि विमान बनर्जी ने मुख्यमंत्री को विभिन्न निजी अस्पतालों की ओर से विधासभा को भेजे गए विधायकों के इलाज के बिल के बारे में बताया। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि निजी अस्पतालों ने किसी विधायक के इलाज का 14 लाख तो किसी विधायक का 11 लाख रुपए बिल भेजा है। निजी अस्पताल से आए एक विधायक के बिल में एक बेड का छह हजार रुपए चार्ज किया गया है। कुछ दिन बाद उसी अस्पताल ने उसी बेड का दोगुना अधिक चार्ज किया है। इसके अलावा चिकित्सीय जांच और अपरेशन के लिए जो खर्च दिखाए जा रहे हैं वे तर्कसंगत नहीं लगते हैं। किसी बिल में एक ही जांच के लिए विभिन्न तरह से खर्च दिखाए जा रहे हैं।

सूत्रों ने बताया कि विमान बनर्जी से निजी अस्पतालों के कारनामे सुन कर मुख्यमंत्री भड़क गईं और यह कहते हुए जांच का निर्देश दिया कि जब विधायकों के साथ ऐसा हो रहे है तो निजी अस्पताल आम लोगों के साथ क्या करते होंगे। इसकी जांच होनी चाहिए। इसके के कुछ देर बाद ही विमान बनर्जी ने मामले की जांच के लिए चार डॉक्टरों की टीम बना दी। उन्होंने गुरुवार को डॉक्टरों की जांच टीम गठित करने की पुष्टि भी की।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned