आज के आधुनिक युग में भी यह प्रथा जोरो से चलती है, अफसरों ने दी दखल

Kondagaon, Chhattisgarh, India
आज के आधुनिक युग में भी यह प्रथा जोरो से चलती है, अफसरों ने दी दखल

बाल विवाह की सूचना पर जिला कार्यक्रम अधिकारी मुक्तानंद खूंटे व पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई कर  वर एवं वधु पक्ष को समझाईश दी।

कोण्डागांव . जिला प्रशासन ने गुरुवार को होने वाले एक बाल विवाह को रोक दिया गया। मिली जानकारी के अनुसार  केशकाल ब्लाक के बहीगांव, गुडरीपारा में नाबालिग रमशीला (परिवर्तित नाम) जो कि 17 वर्ष 10 माह की है का विवाह कुकड़ा पाण्डुका गरियाबंद के रहने वाले युवक के साथ किया जा रहा था।

वर एवं वधु पक्ष को समझाईश दी
उक्त बाल विवाह की सूचना पर जिला कार्यक्रम अधिकारी मुक्तानंद खूंटे व पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई कर  वर एवं वधु पक्ष को समझाईश दी। चूंकि वधू की आयु 18  वर्ष पूरी होने में 45 दिन ही शेष है अत: निर्धारित आयु पूर्ण करने  के पश्चात ही विवाह करने हेतु दोनों पक्षों के परिजनों से पंचनामा कर शपथ पत्र भी लिया गया।

ज्ञात हो कि
इस दौरान जिला बाल संरक्षण अधिकारी नरेन्द्र सोनी, संरक्षण अधिकारी गजेन्द्र पटेल, परियोजना अधिकारी केशकाल अहिल्या ध्रुव, पर्यवेक्षक रेणुका सिंह, ज्ञात हो कि कलेक्टर समीर विश्नोई ने बाल विवाह के रोकथाम कहा है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned