#जंगल में प्रेमी जोड़ों को पेड़ में बांध कर लूटपाट और छेडख़ानी करता था गिरोह, छह पकड़ाए

Piyushkant Chaturvedi

Publish: Jan, 14 2017 07:12:00 (IST)

Korba, Chhattisgarh, India
#जंगल में प्रेमी जोड़ों को पेड़ में बांध कर लूटपाट और छेडख़ानी करता था गिरोह, छह पकड़ाए

जंगल में जंगल में प्रेमी जोड़े से छेडख़ानी और लूटपाट करने वाले एक गिरोह को पुलिस ने पकड़ा है। इसमें दो नाबलिग सहित छह युवक शामिल हैं।

कोरबा. जंगल में जंगल में प्रेमी जोड़े से छेडख़ानी और लूटपाट करने वाले एक गिरोह को पुलिस ने पकड़ा है। इसमें दो नाबलिग सहित छह युवक शामिल हैं।

पूछताछ में गिरोह नेे छह से सात जोड़ों पर जुल्म कर उनसे लूटपाट की बात स्वीकार की है। गिरोह से लूट का सामान और घटना में प्रयोग किए जाने वाला डंडा, टांगी, टार्च और राड भी बरामद किया है। 
 
पुलिस ने बताया कि जंगल में प्रेमी जोड़ों से लूटपाट करने के आरोप में दोंदरो निवासी परदेशी राम चौहान 21, सुख सिंह 20, समारू अगरिया और रूमगरा निवासी राकेश चौहान 25 सहित दो नाबालिग को गिरफ्तार किया गया है।

इसमें एक नाबालिग की उम्र 16 और दूसरे की 17 साल है। दोनों के खिलाफ पुलिस ने आईपीसी की धारा 399, 402 (डकैती की तैयारी) के तहत केस दर्ज किया है।

गिरोह के पास से पुलिस ने लूट की मोबाइल, पर्स सहित जोड़े से लूटपाट की घटना में प्रयोग किए जाने वाला डंडा, टांगी, रस्सी और टार्च सहित अन्य सामान जब्त किया गया है।

गिरोह ने बालकोनगर थानांतर्गत स्थित कॉफी प्वाइंट और इसके आसपास पिकनिक स्थल पर लूटपाट करना स्वीकार किया है।

छह ने सात जोड़ों को जंगल में शिकार बनाना स्वीकार किया है। गिरोह के कब्जे से राजा अंसारी का मोबाइल फोन भी बरामद किया गया है। गिरोह पर राज का मोबाइल फोन लूटने और उसकी प्रेमिका से छेडख़ानी का भी आरोप है।

करता था छेडख़ानी
गिरोह के सदस्य जंगल में प्रेमी जोड़ों पर नजर रखता था। जोड़े को संदिग्ध और आपत्तिजनक स्थिति में देखकर पकड़ लेता था। युवक से मारपीट और युवती से छेडख़ानी करता था।

विरोध करने पर रस्सी से बांधता
पे्रमी जोड़े को पकड़कर गिरोह डराता धमकाता था। विरोध करने पर मारपीट करता था। इससे बावजूद जोड़ा काबू में नहीं होता था

तो रस्सी से पकड़ कर पेड़ से बांध देता था। लड़कियों से छेडख़ानी करता था। मोबाइल, पैसे और पर्स सहित अन्य सामान को लूटता था। 

इन स्थानों पर घटना
गिरोह ने कॉफी प्वाइंट, फुटहामुंडा और गहनिया सहित अन्य स्थानों पर लूटपाट करना स्वीकार किया है।

पीडि़त जोड़े नहीं करते थे शिकायत
गिरोह पिकनिक या सैर सपाटे पर जाने वाले परिवार को परेशान नहीं करता था। उसकी नजर सिर्फ प्रेमी जोड़ों पर रहती थी। इसके पीछे गिरोह का मानना था कि प्रेमी जोड़े लोक लज्जा के भय से पुलिस तक नहीं जाएंगे। उनके खिलाफ रिपोर्ट नहीं लिखाएंगे।

युवक को पीट कर लड़की से छेड़छाड़ का बनाया विडियो
जनवरी के पहले सप्ताह में गिरोह ने फुटहामुड़ा के पास जंगल में एक प्रेमी जोड़ा को पकड़ा था। रास्ता रोक कर लड़की से छेडख़ानी की थी।

युवक से मोबाइल और पैसे लूट लिया था। घटना की विडियो भी बनाई थी। घटना के  तीन दिन बाद राजा अंसारी नाम के युवक ने शिकायत बालकोनगर थाने में दर्ज कराई थी।

रजगामार के पास स्थित ग्राम पतरापाली के युवकों पर लूटपाट का आरोप लगाया था। पुलिस मामले की जांच कर रही थी। बालकोनगर से कॉफी प्वाइंट की ओर जाने वाले मार्ग पर होने वाली हरकतों पर नजर रख रही थी। पुलिस को जंगल में सड़क किनारे एक बाइक दिखती थी।

दो तीन दिन की रेकी के बाद पुलिस ने बाइक चालक से पूछताछ की थी। उसे गिरोह बनाकर प्रेमी जोड़ों से लूटपाट करना स्वीकार किया।

एक आरोपी पहले भी गया जेल
गिरोह का सरगना परदेशी चौहान है। वह पहले भी जेल की हवा खा चुका है। परदेशी जंगल से लकड़ी काटने की बात कहकर घर से निकलता था और गिरोह के साथ प्रेमी जोड़े से लूटपाट करता।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned