त्रासदी : एक तरफ उठी बेटी की डोली तो दूसरी तरफ पिता की अर्थी

Piyushkant Chaturvedi

Publish: Jun, 19 2017 09:33:00 (IST)

Korba, Chhattisgarh, India
त्रासदी : एक तरफ उठी बेटी की डोली तो दूसरी तरफ पिता की अर्थी

जिस घर से सुबह ससुराल के लिए बेटी की डोली निकली। उसी घर से शाम को पिता की अर्थी। दिल दहला देने वाली यह दुखद घटना नगर निगम के वार्ड क्रमांक-9 भिलाई खुर्द की है।

कोरबा. जिस घर से सुबह ससुराल के लिए बेटी की डोली निकली। उसी घर से शाम को पिता की अर्थी। दिल दहला देने वाली यह दुखद घटना नगर निगम के वार्ड क्रमांक-9 भिलाई खुर्द की है।

यहां रहने वाले रेशमलाल पटेल ने सोमवार को अपनी छोटी बेटी सोनिया को डोली बिठाकर विदा किया था। नाते रिश्तेदार और परिवार के लोग बारात की थकान मिटा रहे थे।

सोमवार सुबह करीब 10.30 बजे रेशम लाल का बड़ा दामाद भागवत पटेल टेंट के सामान को हाथ से खोल रहा था। टेंट में फैले बिजली के तार फैले होने के कारण वह करंट की चपेट में आ गया।

भागवत को करंट से चिपका देख ससुर रेशमलाल दीवार कूद कर दामाद के पास पहुंचा और तार को हाथ से पकड़ कर दामाद को धक्का दिया। दामाद तो दूर फेंका गया लेकिन रेशमलाल करंट से चिपका रह गया।

भागवत ने लाइन बंद की। तार को अलग कर ससुर को उठाया और परिवार के लोग रेशमलाल को लेकर कोरबा के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे। यहां डॉक्टर ने परीक्षण के बाद रेशम लाल को मृत घोषित कर दिया। शादी की खुशी मातम में बदल गई। घर में कोहराम मच गया।

परिवार के लोगों ने बताया कि घटना के समय रेशमलाल स्नान कर रहा था। शरीर पानी से भीगा था। वह दामाद को बचाने दीवार कूदकर आया। तार को जिस स्थान पर पकड़ा, वहां तार पहले से कटा हुआ था। इसके कारण करंट की चपेट में आ गया।

रविवार शाम रेशमलाल की पुत्री सोनिया की बारात आई थी। रेशमलाल ने सोमवार सुबह करीब छह बजे बेटी को डोली में बैठाकर विदा किया था।

ससुराल में सोनिया दुल्हन बनकर पहुंची ही थी कि मायके से पिता की करंट से मौत की खबर आई। यह सुनकर बेटी अचेत हो गई। वहां भी मातम पसरा था।

परिवार पर भारी विपदा आ गयी। परिजनों ने बताया कि  तीन साल पहले रेशम के इकलौते पुत्र की सर्पदंश से मौत हो गई थी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned