अगर नहीं बनी बात तो यहां 35 सीटों पर ताल ठोकेंगे योगी के उम्मीदवार 

Kushinagar, Uttar Pradesh, India
अगर नहीं बनी बात तो यहां 35 सीटों पर ताल ठोकेंगे योगी के उम्मीदवार 

हिंदू युवा वाहिनी विधानसभा के चुनाव में भाजपा के प्रति बगावती तेवर...

अवधेश मल्ल
कुशीनगर. यदि योगी आदित्यनाथ की नाराजगी दूर नहीं हुई और उनकी बातें नहीं मानी गई तो कुशीनगर में हिंदू युवा वाहिनी विधानसभा के चुनाव में भाजपा के प्रति बगावती तेवर अपना सकती है। कम से कम हिंयुवा के तीन पदाधिकारी चुनाव मैदान में ताल ठोकने को तैयार बैठे हैं। यदि एेसा होता है तो कुशीनगर में ही नहीं पूर्वांचल के कई मंडलों में भाजपा को भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। 

सूत्रों की मानी जाय तो सांसद योगी आदित्यनाथ कई कारणों के चलते भाजपा आला कमान से खुश नहीं हैं। यह बात अलग है कि वह अपनी नाराजगी को राजनैतिक कारणों से अभी जगजाहिर नहीं कर रहे हैं। वह उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव में हियुवा के 30-35 कार्यकर्ताओं को चुनाव मैदान में उतारना चाहते हैं। केवल कुशीनगर में हिंयुवा के 7 पुराने कार्यकर्ता  एवं पदाधिकारी टिकट मांग रहें हैं। 

कुशीनगर की अलग- अलग विधानसभा सीटों से टिकट मांगने वालों में से अतुल सिंह पूर्व विधायक हैं और वर्ष 2012 में कमल चुनाव चिह्न से विधानसभा का चुनाव लड़ चुके हैं। अजय गोविंद शिशु हियुवा के कुशीनगर जनपद प्रभारी हैं। संजय सिंह मुन्ना जिलाध्यक्ष हैं और विनय जायसवाल, राजेश्वर सिंह, राजन जायसवाल व फूलबदन कुशवाहा हिंयुवा के जिम्मेदार पदों पर आसीन हैं। यही स्थिति पूर्वांचल के अन्य मंडलों की है। हिंयुवा के पुराने  और महत्वपूर्ण पदों पर आसीन कार्यकर्ता विधानसभा चुनाव में टिकट की चाह रख रहें हैं।

योगी भी अपने निष्ठावान कार्यकर्ताओं को विधानसभा का चुनाव लड़ाना चाह रहे हैं। बातों की गंभीरता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि मकर संक्राति का अवसर होते हुए भी गुरुवार को योगी आदित्यनाथ को दिल्ली जाना पड़ा। बता दें गोरखनाथ मंदिर के लिए मकर संक्राति एक बड़ा त्यौहार है। लाखों श्रद्धालु मंदिर में खिचड़ी चढ़ाने जाते हैं। मंदिर का महंथ होने के नाते योगी मकर संक्राति के अवसर पर कहीं नहीं जाते हैं। यहां यह भी बता देना जरूरी है कि हिंदू युवा वाहिनी एक मजबूत हिंदूवादी संगठन है।

इसका संगठन गांव स्तर पर तक सक्रिय है। इसकी नाराजगी पूर्वांचल में भाजपा के मंसूबों पर पानी फेर सकती है। सूत्र बताते हैं कि भाजपा यदि योगी आदित्यनाथ के मन मुताबिक टिकट नहीं देती है तो हियुवा के कार्यकर्ता चुनाव मैदान में उतर सकते हैं। कुशीनगर में तीन हियुवा के तीन वरिष्ठ कार्यकर्ता चुनावी जंग में कुदने को तैयार हैं।  27.12.2016 को नेबुआ- नौरंगिया विकास खंड के परसौनी में आयोजित एक जनसभा में हियुवा के प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह ने भी मंच से साफ शब्दों में कह दिया कि यदि भाजपा हिंयुवा के कार्यकर्ताओं को टिकट नहीं देती है तो संगठन उन्हें चुनाव लडने से मना नहीं करेगा। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned