करेंट लगने से हुई युवक की मौत, नाराज लोगों ने शव रखकर लगाया जाम

Ruchi Sharma

Publish: Jun, 20 2017 12:49:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
 करेंट लगने से हुई युवक की मौत, नाराज लोगों ने शव रखकर लगाया जाम

करेंट लगने से हुई युवक की मौत, नाराज लोगों ने शव रखकर लगाया जाम

ललितपुर. विद्युत विभाग की बड़ी लापरवाही एक बार फिर उजागर हुई है। जिसके चलते एक मजदूर वर्ग के व्यक्ति जो की ठेला पर चाय बेच कर अपने परिवार का भरण पोषण करता था की मौत विद्युत करंट लगने से विगत दिवस को गई थी। विद्युत विभाग की लापरवाही से जनपद में यह पहली मौत नहीं है इसके पहले भी विद्युत विभाग के हाईटेंशन तार गिरने से या विभाग की लापरवाही से करंट लगने के कारण कई लोगों की मौत हो चुकी हैं। मगर विद्युत विभाग के अधिकारी उसके बाद भी नहीं चेते। 


अभी हाल ही में चाय विक्रेता इलाइट चौराहे पर विद्युत खम्बे के पास चाय का ठेला लगाकर अपने परिवार का भरण पोषण करता था।पास ही रखे विद्युत ट्रांसफार्मर की अर्थिंग की पत्ती जमीन में लगी हुई थी जो कि ठेले वाले को छू गई जिससे उसके शरीर मे करेंट दौड़ गया। उसकी मौके पर मौत हो गई। उसके शव को पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया था। मगर इस दुर्घटना के बाद ना तो विद्युत विभाग और ना ही जिला प्रशासन का कोई अधिकारी पीड़ित परिजनों के पास तक संवेदना व्यक्त करने नहीं आया लेकिन आज  पोस्टमार्टम के बाद मृतक के परिजनों एवं मोहल्लेवासियों ने इलाइट चौराहे पर  शव रखकर जाम लगा दिया और विद्युत विभाग मुर्दाबाद प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे।

सूचना पर जिला प्रशासन की सदर एसडीएम महेश प्रसाद दीक्षित तथा पुलिस विभाग के सीओ सदर हिमांशु गौरव घटनास्थल पर पहुंचे और परिजनों को समझाने की कोशिश करने लगे। करीब एक घंटे तक प्रशासन मान मनोबल करता रहा, लेकिन आक्रोशित लोग मानने को तैयार नहीं थे आखिर उन्हें क्षतिपूर्ति राशि देने का विद्युत विभाग द्वारा आश्वासन दिया गया तब जाम खोला गया तब प्रशासन ने राहत की सांस ली। वही अधिशासी अभियंता विद्युत एसके गुप्ता द्वारा बताया गया की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद एवं विद्युत सुरक्षा नियामक की रिपोर्ट के अनुसार ही क्षति पूर्ति की जाएगी।

मौका देखकर सेकी जाने लगी राजनीतिक रोटियां

जब गुस्साए लोगों ने मृतक का शव रख कर इलाइट चौराहे पर जाम लगा दिया तब उत्तर प्रदेश सरकार के राज्य मंत्री प्रतिनिधि चंद्रशेखर पंथ तथा बहुजन समाज पार्टी के नेता संतोष कुशवाहा भी मौके पर पहुंच गए और राजनीतिक रंग में परिजनों को संतावना देने लगे इस पर लोगों ने नारे लगाए की राजनीति बंद करो बंद करो हालांकि जब जिला प्रशासन के सदर एसडीएम ने उन्हें पूर्ण रूप से आश्वासन दिया कि पीड़ित परिवार के साथ जिला प्रशासन है और उसकी हर सम्भव मदद की जाएगी उचित मुआवजा भी दिया जाएगा।


कई घंटे फंसे रहे कई मुसाफिर

जब चौराहे पर जाम लगाया गया तो दोनों तरफ से आने जाने वाली वाहनों की लंबी कतारें दोनों ओर लग गई। मुसाफिर इस जाम में फंसे रहे लगभग दो घण्टे बाद जाम खोला गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned