योग खाली पेट होता है, और खाली पेट रखना ही भाजपा की मंशा है ! - संजय सिंह

Lucknow, Uttar Pradesh, India
योग खाली पेट होता है, और खाली पेट रखना ही भाजपा की मंशा है ! - संजय सिंह

आम आदमी पार्टी प्रदेश के सभी नगर निगमों में हो रहे घोटाले से पर्दा उठाने का प्रयास कर रही है।

लखनऊ। प्रदेश में पूरा अमला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के योग कार्यक्रम पर अपनी नजरें गड़ाए हुआ है वहीं दूसरी ओर आम आदमी पार्टी ने इसी मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है। आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने कहा कि योगा खाली पेट होता है और यही भारतीय जनता पार्टी की मंशा भी है। सब को खाली पेट रखना। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद अब जीएसटी से दोगुनी मार पड़ेगी। यह किसी काले कानून से कम नहीं है। जीएसटी को सरल शब्दों में ऐसे साझा जा सकता है की व्यापारियों को 1 साल में 49 बार टैक्स देना होगा। यह वही भाजपा सरकार है जो मनमोहन सिंह टाइम पर जीएसटी का विरोध कर रही थी। तब तो जीएसटी की मैक्सिमम लिमिट 14% की थी लेकिन मोदी सरकार में इसकी लिमिट 28 प्रतिशत है। जनता के लिए साफ तौर से महंगाई आने वाली है।

राम नगरी में घोटाला
इसके अलावा उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी प्रदेश के सभी नगर निगमों में हो रहे घोटाले से पर्दा उठाने का प्रयास कर रही है। पिछली सरकार में राम जन्म भूमि अयोध्या को भी नहीं बक्शा गया। हालांकि अब योगी सरकार भी कुछ अलग नहीं है। राम नगरी में पर्यटन के नाम पर करोड़ों दबा लिए गए। आरटीआई के माध्यम से प्राप्त जानकारी के अनुसार सत्संग भवन प्रवेश द्वार के निर्माण के लिए 2 करोड़ 42 लाख खर्च हुआ लेकिन ज़मीनी रूप में काम अभी भी बाकी है। इसी तरह लक्ष्मण घाट से गोलघाट तक परिक्रमा के लिए 1 करोड़ 45 लाख खर्च हो चुका है लेकिन बावजूद इसके निर्माण कार्य पूरे नहीं हुए | तुलसी उद्यान के सुन्दरीकरण के लिए 1 करोड़ 21 लाख खर्च हुआ लेकिन सुन्दरीकरण नहीं हुआ।

तत्कालीन डीएम के नाम से भेजा था फ़र्ज़ी पत्र
आम आदमी पार्टी ने बताया कि भरतकुंड के सौन्दर्यकरण के लिए क्षेत्रीय पर्यटक अधिकारी ने तत्कालीन डी.एम. किंजल सिंह के नाम से फर्जी पत्र शासन को भेजा था। पत्र में डीएम की ओर से सहमति दिखाते हुए शासन से 1 करोड़ 61 लाख रूपए मिटटी खुदाई के लिए मंगवा लिए गए। हालांकि तत्कालीन डी.एम. किंजल सिंह ने ऐसे किसी भी पत्र से इंकार करते हुए क्षेत्रीय पर्यटक अधिकारी वी.पी. सिंह के निलंबन के लिए शासन में पत्र भेजा था। पर अभी तक सम्बंधित अधिकारी पर कोई कार्रवाई नहीं हुई और वे अभी भी वही बने हुए हैं।

संजय सिंह ने कहा कि भाजपा और सपा में फर्क नहीं है। प्रदेश में सरकार के गठन के बाद से कई जांच बैठाई गयी लेकिन कार्रवाई कुछ नहीं। इसी बीच सपा ने एनडीए के राष्ट्रपति उमीदवार को अपना समर्थन देने की बात भी कही। अब तस्वीर साफ़ है समर्थन के बदले पिछली सरकार को भ्रष्टाचार में क्लीन चिट मिलेगी। खुद योगी सरकार में सपा सरकार के मुकाबले चार गुना अपराध हुए हैं। सिर्फ बातों से काम नहीं चलेगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned