सलाखों के पीछे भेजे गए किशोरी की रेप के विरोध में हत्या करने वाले आरोपित

Lucknow, Uttar Pradesh, India
सलाखों के पीछे भेजे गए किशोरी की रेप के विरोध में हत्या करने वाले आरोपित

पुलिस ने मुकदमें में आरोपितों के विरुद्ध पॉक्सो और एससी एसटी की धारा बढ़ा दी है।

लखनऊ. राजधानी के बीकेटी के कठवारा गांव निवासी किशोरी की हत्या के मामले में पुलिस ने पकड़े गए दो आरोपितों को मंगलवार को जेल भेज दिया। पुलिस को हत्यारोपितों के बारे में पुख्ता सुराग मिला था। उसी आधार पर पुलिस ने युवकों को हिरासत में लिया था। थाना प्रभारी बीकेटी विजय शंकर यादव ने बताया कि किशोरी की हत्या के मामले में पुलिस ने मुखबिर और साक्ष्यों के आधार पर कठवारा निवासी गुलाब कुमार रावत और खेरवा निवासी कांशीराम लोधी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मुकदमें में आरोपितों के विरुद्ध पॉक्सो और एससी एसटी की धारा बढ़ा दी है।

एसएसपी मंजिल सैनी ने बताया कि कठवारा गांव में रहने वाली एक किशोरी की तीन दिन पहले गांव के बाहर कठवारा के जंगल में हत्या कर दी गई थी। हत्यारों ने उसका शव झाड़ियों में फेंक दिया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह साफ हो गया कि उसकी हत्या में एक से अधिक लोग शामिल हैं। गला कसकर हत्या करने से पहले उसे झाड़ियों में घसीटा गया था, लेकिन रेप की पुष्टि नहीं हुई है। स्लाइड जांच के लिए भेजी गई। पुलिस की छानबीन में सामने आया है कि रेप करने के लिए ही किशोरी की हत्या की गई थी, लेकिन उसके विरोध के चलते आरोपित सफल नहीं हो सके थे तो उसकी हत्या कर दी थी। घटना स्थल से मिले साक्ष्यों के आधार पर पुलिस ने आरोपितों को हिरासत में लिया जिन्होंने कड़ाई से पूछताछ करने पर अपना जुर्म कबूल कर लिया। एसओ बीकेटी विजय शंकर यादव ने बताया हत्यारोपितों को गिरफ्तार करने में जल्दबाजी इसलिए नहीं की गई ताकि कोई निर्दोष जेल न चला जाए।

ट्यूबेल में गिरी थी किशोरी
एसएसपी ने बताया कि आरोपितों ने पूछताछ में बताया वह ट्यूबेल के हौज पर चढ़कर पानी भर रही थी कि तभी उसे पकड़कर खींचने लगे इससे वह पानी में गिर गई और हौज की ईंट उसके ऊपर गिर गईं। इससे वह चोटिल हो गई और पानी में भीग गई। मृतका ने गुलाब से कहा था कि तुम्हारे घर में बता दूंगी। भेद खुलने के डर से दोनों ने दुपट्टे से गला कसकर हत्या करके शव झाड़ियों में छिपा दिया था। इसके बाद आरोपित लड़की के घरवालों के साथ उसे ढूंढते भी रहे ताकि कोई शक न कर सके। लेकिन पुलिस ने उन्हें सलाखों के पीछे भेज दिया।

रेप के विरोध में महिला को घायल कर चेन लूटने वाला गिरफ्तार
लखनऊ. राजधानी के जानकीपुरम थाना क्षेत्र में एक महिला के दो वर्षीय बच्चे को ढाल बनाकर रेप के प्रयास में असफल होने पर किरायेदार का दोस्त महिला पर कातिलाना हमला करके उसे घायल कर फरार हो गया था। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला को अस्पताल में भर्ती कराते हुए रिपोर्ट दर्ज कर पड़ताल शुरू कर घटना के 24 घंटे  ही आरोपी को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया।
Jankipuram Police Goodwork
एसएसपी मंजिल सैनी ने बताया कि जानकीपुरम विस्तार निवासी अभिनव सोनकर अपने चाचा के मकान में पत्नी शिल्पी और दो वर्षीय मासूम विवान के साथ रहता है उसकी चारबाग में केकेसी के पास ई-टिकटिंग की दुकान है। इसी घर में मूल रूप से सीतापुर निवासी दीपक अपने भाई राकेश के साथ किराए पर रहता है। पिछले चार दिन से दीपक का एक दोस्त लगातार घर पर आ रहा था और रेकी कर रहा था। सोमवार दोपहर डेढ़ बजे पीड़िता घर पर अकेली थी तभी दीपक के अज्ञात दोस्त ने खाना मांगने के बहाने पीड़िता का दरवाजा खुलवाया और दरवाजा खुलते ही उस पर झपट्टा मारकर उसके साथ रेप का प्रयास किया असफल होने पर उसका सिर फोड़ पर दिया और फरार हो गया था। पीड़िता कुछ समझ पाती की आरोपित ने पीड़िता के दो वर्षीय मासूम को पकड़ लिया और जान से मारने की धमकी देते हुए पीड़िता का सर दीवार पर पटक दिया। इसी दौरान  बदमाश ने महिला के कान की झुमकी और गले की चेन लूट ली और भाग गया था।

भागते समय बदमाश का हुआ एक्सीडेंट, लूटी हुई चेन भी गिरी

थाना प्रभारी जानकीपुरम गोपाल सिंह यादव ने बताया घटना को अंजाम देने के बाद भागते समय आरोपित बाराबंकी जिले के थाना बड्डूपुर में एक्सीडेन्ट से बुरी तरह घायल हो गया। इस सूचना पर पुलिस टीम में वरिष्ठ उप निरीक्षक सुरेश कुमार पटेल, उप निरीक्षक तेज प्रकाश सिंह, कॉन्स्टेबल राजेश यादव, पुष्पेंद्र सिंह, अरविन्द्र, कादिर अली ने छिपकर हास्पिटल में इलाज करा रहे आरोपित इकरार हासमी निवासी मड़ियांव गांव जानकीपुरम को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पता चला की भागते समय लूटी हुई चेन भी कहीं गिर गई। पकड़ा गया बदमाश एक शातिर किस्म का खूखार अपराधी हैं जिसके खिलाफ कई थानों में मुकदमें दर्ज हैं, जिसे जेल भेज दिया गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned