कानपुर में 'मानव श्रृंखला' बनाकर वोट देने की अपील, बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड 

Kanpur, Uttar Pradesh, India
 कानपुर में 'मानव श्रृंखला' बनाकर वोट देने की अपील, बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड 

मतदाता जागरूकता अभियान को लेकर जिला प्रशासन कई दिनो से तैयारी मे लगा हुआ था

कानपुर देहात.मतदाता जागरूकता अभियान को लेकर जिला प्रशासन कई दिनो से तैयारी मे लगा हुआ था| जिसके तहत बैनर के साथ 3 किमी लम्बी मानव श्रंखला बनाकर कानपुर देहात ने दुनिया मे अपना डंका बजा दिया है| एक साथ 3700
युवाओं ने कार्यक्रम मे भाग लेकर इतिहास कायम करते हुये गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड मे नाम दर्ज कराया है| गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड से आयी टीम ने कानपुर देहात मे हुये इवेंट को संयुक्त अरब अमीरात से बेहतर घोषित किया है| बताते चले इसके पूर्व संयुक्त अरब अमीरात का नाम था, लेकिन अब कानपुर देहात ने पीछे कर दिया है| 


सुबह से ही जिले के मुख्यालय आती से लेकर अकबरपुर रोड पूरी तरह बंद कर दिया गया था| हालांकि इस दौरान लोगो को भारी दिक्कतों का सामना करना पडा| अलग अलग क्षेत्रो से आये करीब 4000 युवा सडक किनारे 3 हजार मीटर लम्बा बैनर लेकर कतार मे खडे हो गये| जिसमे मतदाता जागरूकता स्लोगन लिखे हुये थे| प्रशासन को इस दौरान करीब 6 घंटे मसक्कत करनी पडी| इस बीच गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड से आयी ज्यूरी के लीडर स्वप्निल डागरीकरण सहित बाकी सदस्य इवेंट पर नजर रखे रहे| जैसे
ही युवा बैनर लेकर आगे बडे ज्यूरी ने आपस मे चर्चा की| फोन पर अपने उच्चाधिकारियों से वार्ता की| इसके बाद अबू धावी यूएई को पीछे छोड दिया और कानपुर देहात नया रिकार्ड होने की घोषडा कर दी गयी| जिसके बाद पूरा माहौल खुशनुमा हो गया| एक दूसरे को गले लगाकर लोगो ने खुशी का इजहार किया|

पूरी कामयाबी के अहम बिंदु

मतदाता जागरूकता मानव श्रंखला के इस 6 घंटे के दौरान 3793 युवाओं ने अलग अलग क्षेत्रो से आकर प्रतिभाग किया| बैनर की लम्बाई करीब 3 हजार किलोमीटर थी और बैनर का वजन लगभग 4 कुंटल बताया गया है| बैनर को पकडकर युवाओं ने
करीब 500 मीटर की दूरी तय की| इस दौरान गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड मे जिले का नाम अंकित होने मे करीब 6 घंटे की मसक्कत करनी पडी| इस पूरी कामयाबी मे सरकारी स्टाफ के करीब डेढ हजार लोग लगे रहे जिसके बाद गिनीज
बुक वर्ल्ड रिकार्ड टीम ने जिलाधिकारी को प्रमाण पत्र देकर बधाई दी इसके पूर्व यह रिकार्ड अबूधाबी संयुक्त अरब अमीरात के नाम था जहाँ 2139 प्रतिभागी शामिल हुये थे.

माती रोड बंद होने से परेशान हुये लोग

सुबह से ही कानपुर देहातका नाम गिनीज बुक मे दर्ज कराने को लेकर प्रशासन पूरी तरह से तैयार था| जिसके चलते माती रोड पूरी तरह से ब्लाक कर दिया गया था| इस दौरान मोटर साइकिल का प्रवेश भी वर्जित कर दिया गया था| लोगो को लम्बा सफर तय करके अपने गंतव्य तक जाना पडा| जबकि इसी रोड पर जिला अस्पताल, कचहरी, पुलिस लाइन आदि स्थित है, लेकिन कार्यक्रम के चलते लोगो को दिक्कतो का सामना करना पडा| हालांकि कई लोग कार्यक्रम से खुश होकर परेशानी झेलते रहे| वहीं कुछ लोग पुलिस कर्मियों से बहस करते रहे| वहीं कुछ लोग मरीजो को पीठ पर लादकर जिला अस्पताल पहुंचे|

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned