सरकारी व्यवस्था के खिलाफ ही पुलिस मैदान में, भ्रष्टाचार को दे रही बढ़ावा !

Lucknow, Uttar Pradesh, India
सरकारी व्यवस्था के खिलाफ ही पुलिस मैदान में, भ्रष्टाचार को दे रही बढ़ावा !

पुलिस डाल रही सरकारी काम में बाधा, कौन करेगा कार्रवाई ? 

लखनऊ। लखनऊ पुलिस द्वारा एक और ऐसा कारनामा करा दिया गया  जिससे उसकी कार्यशैली पर फिर सवाल उठने लगे हैं। कमाल की बात ये भी है की पुलिस द्वारा ये कार्य खुद ही सरकारी तंत्र के विरुद्ध किया जा रहा है। सालों से चल रही जनता की जेब से लूट पर वैसे तो पुलिस अपनी आँखें मूंदी हुई थी लेकिन बीते दिन जब कुछ ठीक हुआ तो ये बात शायद लखनऊ पुलिस के गले नहीं उतरी।

क्या है मामला
लगातार मिल रहीं शिकायतों के बाद आखिरकार नगर निगम की ओर से शनिवार को सहारागंज मॉल की पार्किंग की जिम्मेदारी अपने हाथों में ले ली गई है। ठेकेदार 10 की जगह 20 और 20 की जगह 40 रूपए वसूल रहा था। बकायदा इसका स्टिंग ऑपरेशन खुद निगम द्वारा किया गया जिसके बाद पार्किंग के ठेके को रद्द किया गया। इसके बाद सहारागंज की मुख्य पार्किंग निगम द्वारा अपने हाथों में ले ली गयी, लेकिन अब पुलिस इस व्यवस्था को ही रोकने पर उतारू है।

पुलिस पर क्यों उठ रहे सवाल
सोमवार दोपहर को सहारागंज चौकी इचार्ज राहुल सोनकर ने पार्किंग व्यवस्था देख रहे निगम कर्चारियों को ही चौकी में बिठा लिया। साथ ही ये कहा गया कि  पार्किंग की दो लाइन क्यों बनाई जा रही है ? पुलिस के इस कदम पर  सवाल इसलिए उठ रहे हैं क्योंकि निगम खुद इस पार्किंग को संचालित कर रहा है। वह इसे वैध मानता है। 

पुलिस के सभी तर्क गलत : नगर निगम
जोनल अधिकारी अशोक सिंह ने कहा कि फुटपाथ नगर निगम का है। पार्किंग की ज़िम्मेदारी उसकी है। पुलिस को इस तरह कार्रवाई करने का कोई अधिकार नहीं है। चौकी इंचार्ज सरकारी कार्य में बाधा पहुंचा रहे हैं। सालों से जब चौकी के बगल में अवैध वसूली का धंधा चल रहा था तब वे चुप थे और आज नगर निगम जब बिगड़ी व्यवस्था को ठीक कर चुका है तो वे निगम को ही गलत ठहरा रहे हैं। उन्होंने दोपहर भर जबरन एक लाइन पार्किंग लगवाई जिससे पार्किंग की गाड़िया रोड की दूसरी तरफ प्राइवेट पार्किंग में जाकर लगने लगी। वहां भी निर्धारित शुल्क से अधिक पैसा लिया जा रहा है। ये सीधी तरह से भ्रष्टाचार को बढ़ावा है। पुलिस ने निगम को ठेकेदार समझ लिया है।

क्षेत्रीय इंस्पेक्टर को जानकारी नहीं !
इंस्पेक्टर हज़रतगंज ए के शाही  ने कहा कि क्षेत्र उनका है पर मामला उनके संज्ञान में नहीं है।

नगर आयुक्त उदयराज सिंह ने कहा कि मामले की जानकारी मिली है। पुलिस को पहले दिकक्त नहीं थी। आज पार्किंग के पैसे से जनता को फ़ायदा हो रहा है तो उन्हें दिक्कत हो रही है? पार्किंग जैसे लगती थी वैसे ही लगेगी। उच्च अधिकारियों से इस मामले पर बात करूँगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned