मुलायम-अमिताभ धमकी मामला: सीएफएसएल चंडीगढ़ ने माँगा मूल रिकॉर्डिंग डिवाइस 

Dhirendra Singh

Publish: Jun, 20 2017 04:40:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
मुलायम-अमिताभ धमकी मामला: सीएफएसएल चंडीगढ़ ने माँगा मूल रिकॉर्डिंग डिवाइस 

सपा संरक्षक मुलायम सिंह और आईपीएस अमिताभ ठाकुर से जुड़ा धमकी देने का मुद्दा फिर गरमाया। सीएफएसएल चंडीगढ़ ने दोनों के बीच हुए बाचतीच का मूल रिकॉर्डिंग डिवाइस मांगा।

लखनऊ. मुलायम सिंह यादव द्वारा आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर को मोबाइल फोन से दी गयी कथित धमकी के संबंध में दर्ज मामले में सेंट्रल फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (सीएफएसएल) चंडीगढ़ ने मूल रिकॉर्डिंग डिवाइस और मीडिया उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। सीएफएसएल ने यह निर्देश केस के विवेचक सीओ हजरतगंज अविनाश मिश्रा को दिए हैं।
पूर्व में सीजेएम लखनऊ संध्या श्रीवास्तव के आदेशों का अनुपालन करते हुए विवेचक ने 12 जून 2017 को सीजेएम कोर्ट में उपस्थित हो कर अमिताभ द्वारा पूर्व विवेचक को दिए गए कॉम्पैक्ट डिस्क को प्राप्त कर उसे एसएसपी लखनऊ के माध्यम से सीएफएसएल चंडीगढ़ को जाँच के लिए भेजा था। हालांकि सीएफएसएल ने मूल डिवाइस उपलब्ध कराने की बात कहते हुए 16 जून को इसे वापस कर दिया। इस पर विवेचक अविनाश मिश्रा ने अमिताभ ठाकुर को मूल रिकॉर्डिंग डिवाइस तथा मीडिया उपलब्ध कराने के लिए पत्र भेजा था।
बता दे कि इससे पहले लखनऊ पुलिस ने मामले को गलत बताते हुए कोर्ट में अंतिम रिपोर्ट लगाई थी। लेकिन सीजेएम ने 20 अगस्त 2016 के आदेश द्वारा इसे ख़ारिज कर मामले की विवेचना सीओ हजरतगंज से कराये जाने का आदेश दिए थे। साथ ही अमिताभ ठाकुर और मुलायम सिंह की आवाज़ का नमूना लेकर इन दोनों की आवाज़ की सीडी विधि विज्ञान प्रयोगशाला में परीक्षण कराने के आदेश दिए थे।

मुलायम सिंह के खिलाफ मुकदमा
आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने सपा सरकार के दौरान सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव पर धमकी देने का आरोप लगाया था। इस संबंध में 10 जुलाई 2015 को ठाकुर ने हजरतगंज थाने में फोन पर धमकी देने का आरोप लगाते हुए मुलायम सिंह पर मुकदमा दर्ज कराया था। इस मामले से जुड़ा एक टेप भी वायरल हुआ था जिसमें कथित रुप से मुलायम सिंह धमकी भरे अंदाज में अमिताभ यादव को सुधर जाने की बात कह रहे थें।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned