#InternationalYogaDay2017 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा को पुख्ता करने के लिए संदिग्ध उपद्रवियों की धरपक्कड़ तेज 

Dhirendra Singh

Publish: Jun, 20 2017 12:45:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
#InternationalYogaDay2017 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा को पुख्ता करने के लिए संदिग्ध उपद्रवियों की धरपक्कड़ तेज 

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (21 जून) पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार शाम से लखनऊ के दो दिवसीय दौरे पर होंगे। पीएम की सुरक्षा को लेकर सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं। वहीं लखनऊ पुलिस पूर्व में सीएम योगी आदित्यनाथ के लखनऊ विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में हुई सुरक्षा चूक से बचने के लिए संदिग्धों को हिरासत में लेने में जुट गई है। 

लखनऊ. अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (21 जून) पर आयोजित कार्यक्रम के मद्देनज़र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार शाम को दो दिवसीय लखनऊ दौरे पर आ रहे हैं। इसे लेकर लखनऊ सहित पूरे यूपी में सुरक्षा अलर्ट जारी हो चुका है। लेकिन अपनी हर तैयारी पुख्ता कर चुकी लखनऊ पुलिस छात्र संगठनों को लेकर काफी चिंतित है। पूर्व में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा में हुई चूक से सबक लेते हुए लखनऊ पुलिस ने संदिग्ध उपद्रवियों की पहचान कर हिरासत में लेना शुरु कर दिया है। सोमवार देर रात पुलिस समाजवादी छात्र सभा के प्रदेश अध्यक्ष व उपाध्यक्ष को हिरासत में ले लिया। वहीं अन्य की धरपकड़ में पुलिस टीमें छापेमारी में जुटी हुई है।

27 छात्रों को लेकर लखनऊ पुलिस बेचैन
जानकारी के मुताबिक एलआईयू ने अपनी रिपोर्ट में करीब 27 छात्र-छात्राओं में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लखनऊ दौरे के दौरान उपद्रव करने की आशंका जताई है। इस रिपोर्ट में संभावना जताई गई है कि यह छात्र-छात्राएं विरोध करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी को काले झंडे दिखाने का प्रयास कर सकते हैं। क्योंकि पूर्व में इन छात्र संगठनों से जुड़े छात्रों ने सीएम योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा में सेंध लगाकर कुछ ऐसा ही किया था।

घर-घर छापेमारी
एलआईयू रिपोर्ट के बाद एसएसपी दीपक कुमार ने सभी संदिग्दों को दबोचने के निर्देश दिए हैं। इसी क्रम में सोमवार देर रात समाजवादी छात्र के प्रदेश अध्यक्ष दिग्विजय सिंह देव को हसनगंज पुलिस ने उनके घर से हिरासत में लिया है, वहीं प्रदेश उपाध्यक्ष मोनू दूबे को पुलिस ने उनके होटल से डिटेन किया है। वहीं पुलिस टीमें सूची में शामिल छात्र-छात्राओं व संदिग्ध उपद्रवी संगठन से जुड़े सभी की तलाश में घर सहित हर संभावित ठीकाने पर छापेमारी कर रही है।

पूर्व में हुई घटना
जानकारी हो कि हाल में लखनऊ विश्वविद्याल में एक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यान की सुरक्षा में छात्र संगठनों ने सेंध लगा दी थी। छात्रों ने सीएम की फ्लीट को रोककर काले झंडे दिखाए थे। पुलिस काफी मशक्कत के बाद उन्हें वहां से हटा सकी। इस मामले में 14 छात्र-छात्राओं को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। वहीं सीएम सुरक्षा में सेंध लगाने वाले 8 छात्र-छात्रों को लखनऊ विश्वविद्यालय ने निलंबित कर दिया था।

वर्जन
देश तानाशाही की तरफ बढ़ रहा है। हमने जो किया या सोचा भी नहीं उसके लिए जेल भेजा जा रहा है। - कुवर रितेश, प्रदेश उपाध्यक्ष, समाजवादी छात्रसभा

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned