अगला 'प्रधानमंत्री’... राहुल गांधी!

Lucknow, Uttar Pradesh, India
अगला 'प्रधानमंत्री’... राहुल गांधी!

नरेन्द्र मोदी से टक्कर लेंगे राहुल गांधी, जीते तो बनेंगे प्रधानमंत्री

लखनऊ। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अप्रत्याशित तौर पर मोदी के नोटबंदी के फैसले का समर्थन करने के बाद 'महागठबंधन' को तगड़ा झटका लगा है। नीतीश कुमार के इस पलटवार से खार खाई कांग्रेस ने साफ कह दिया है कि 2019 के आम चुनावों  में गठबंधन की ओर से प्रधानमंत्री पद के लिए केवल एक ही उम्मीदवार होगा। साफ है कि वह उम्मीदवार कांग्रेस के युवराज अमेठी से सांसद राहुल गांधी ही होंगे।

दरअसल कांग्रेस का मानना है कि नीतीश असल में 2019 के लोकसभा चुनाव को दिमाग में रख कर नोटबंदी के फैसले का समर्थन कर रहे हैं। कांग्रेस को लगता है कि एक ओर विपक्ष संगठित तौर पर नोटबंदी के खिलाफ खड़ा है तो दूसरी ओर नीतीश अगले आम चुनावों के मद्देनजर अपनी एक स्वतंत्र छवि बनाने के लिए ही अलग राह चल रहे हैं।

महागठबंधन को झटका

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इस फैसले के बाद सबसे ज्यादा झटका कांग्रेस को लगा है। आपको बता दें कि बिहार की महागठबंधन सरकार में कांग्रेस भी नीतीश कुमार के साथ है। नीतीश के इस रुख से कांग्रेस में काफी नाराजगी भी है। संसद और इसके बाहर नोटबंदी का विरोध करने वाले राजनैतिक दलों में कांग्रेस सबसे आगे है।

कांग्रेस की वजह से नीतीश बने थे मुख्यमंत्री

बिहार चुनाव के समय महागठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद के लिए नीतीश कुमार के नाम पर सहमति बनाने में कांग्रेस की अहम भूमिका थी। कांग्रेस ने ही लालू यादव को इसके लिए तैयार किया था। ऐसे में नीतीश के बदले सुर से कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। नीतीश के बदले मत से कांग्रेस अब भविष्य में खासतौर पर 2019 के आम चुनावों को लेकर कोई गलती नहीं करना चाहती।

एक पद पर दो नेता नहीं

एक वेबसाइट की खबर के मुताबिक एक कांग्रेसी नेता ने कहा है कि एक ही गठबंधन से 2 नेता (राहुल गांधी और नीतीश कुमार) प्रधानमंत्री पद के दावेदार बनकर बिहार की जनता का वोट नहीं मांग सकते हैं। कांग्रेसी नेता ने जोर देकर कहा कि कांग्रेस किसी भी स्थिति में लोकसभा चुनाव और प्रधानमंत्री पद पर मिलने वाली चुनौती स्वीकार नहीं कर सकती है। मतलब साफ है कि महागठबंधन की तरफ से अगले प्रधानमंत्री के तौर पर राहुल गांधी ही पेश किए जाएंगे।

लालू ने सोनिया को पहले ही किया था सतर्क

यह भी बताया जा रहा है कि राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू यादव ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को फोन पर नीतीश के बारे में कुछ बात की थी। सूत्रों के मुताबिक लालू और सोनिया की बातचीत नीतीश कुमार के भाजपा की ओर नर्म रुख को लेकर ही हुई थी। लालू ने सोनिया को नीतीश के बदले रवैये के प्रति सतर्क किया था।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned