scriptQuality will now hit | अब पड़ेगी क्वालिटी की मार | Patrika News

अब पड़ेगी क्वालिटी की मार

सीहोर। बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि के बाद बची-खुची फसलों को जैसे-तैसे निकालने में जु...

नई दिल्ली

Updated: January 16, 2015 11:56:50 am

सीहोर। बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि के बाद बची-खुची फसलों को जैसे-तैसे निकालने में जुटे किसानों को आने वाले दिनों में भी राहत नहीं मिलने वाली है। जिले में 25 मार्च से समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी शुरू होने वाली है। चूंकि समर्थन मूल्य पर एफएक्यू (फेयर एवरेज क्वालिटी) क्वालिटी का गेहंू ही खरीदा जाता है, इसलिए इस बार किसानों को परेशानी होगी।

समर्थन मूल्य खरीदी की तैयारियों में लगा मैदानी अमला भी यह बात स्वीकार करता है कि अब तक कोई नया निर्देश नहीं आया है। इसलिए एफएक्यू क्वालिटी का गेहूं ही खरीदा जाएगा। इधर, किसानों का कहना है कि बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से गेहूं के दाने खराब हो गए हैं। ऎसे में पूराने प्रावधान के अनुसार समर्थन मूल्य पर खरीदी होती है, तो उनका गेहूं तो बिक ही नहीं पाएगा।

जानकारों का भी कहना है कि यदि राज्य सरकार और नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा समर्थन मूल्य खरीदी के नियमों में संसोधन नहीं किया गया, तो जिले में सवा लाख हेक्टेयर से अधिक रकबे मे बारिश से प्रभावित गेहूं नहीं बिक पाएगा, क्योंकि बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि के कारण गेहूं की क्वालिटी खराब हुई है और दाने दागदार हो गए हैं।

बेचना पड़ेगा औने-पौने दाम पर

समर्थन मूल्य पर नहीं बिकने वाला गेहूं खुले बाजार और मंडियों में औने-पौने दाम पर बेचने के लिए किसानों को मजबूर होना पड़ता है। खुले बाजार में इस अनाज का मूल्य समर्थन मूल्य से कम ही तय किया जाता है। इस स्थिति में किसानों को आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ेगा।

25 से होगी खरीदी प्रारंभ

जिले में 25 मार्च से समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी प्रांरभ की जाएगी। इस बार राज्य सरकार द्वारा समर्थन मूल्य 1400 पर 150 रूपए का बोनस दिया जा रहा है, जिसे जोड़ने के बाद प्रति क्विंटल 1550 रूपए मूल्य दिया जाएगा। जिले में इस बार 75 केन्द्रों पर समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी की जाएगी।

बीते वर्ष जमकर हुआ था हंगामा

पिछले साल भी समर्थन मूल्य खरीदी के दौरान तय मापदंड का गेहूं खरीदने को लेकर काफी हंगामा हुआ था। दरअसल, पिछले साल भी जिले के कुछ क्षेत्रों में ओलावृष्टि से फसल बर्बाद हुई थी। दानें खराब होने के कारण इस क्षेत्र के किसानों को समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने में काफी मशक्कत करनी पड़ी थी।

गत वर्ष जिले के श्यामपुर, पिपलियां मीरा, नसरूल्लागंज, आष्टा सहित कई अन्य केन्द्रों पर किसानों ने प्रदर्शन भी किए थे। इस वर्ष भी खरीदी के दौरान कतिपय यहीं हालात बनने के आसार नजर आ रहे हैंं। बीते वर्ष अपनी उपज बेचने से वंचित रहे किसान हरिनारायण मीणा ने बताया कि उनकी उपज को नमी की मात्रा अधिक होने के चलते नहीं खरीदा गया था। इधर, ग्राम लसूडियां के मनोहर सिंह की फसल दागदार होने के चलते नहीं खरीदी गई थी।

समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी को लेकर फिलहाल नए नियम नहीं आए हैं। फिलहाल पुराने नियमों के आधार पर ही समर्थन मूल्य खरीदी की जाएगी। एसके जैन, जिला आपूर्ति अधिकारी

क्या है एएफक्यू क्वालिटी मापदंड

बीते वर्ष समर्थन मूल्य खरीदी के लिए नागरिक आपूर्ति निगम और खाद्य विभाग ने मापदंड तय किए थे। इसे एफएक्यू कहा जाता है। इसके अंतर्गत खरीदा जाने वाला गेहूं मिटटी और कचरे से रहित होना चाहिए, इसकी नमी निर्घारित मापदंड से अधिक नहीं होना चाहिए। गेहूं का रंग और आकार एक समान होना चाहिए, सहित सात बिंदु इस मापदंड में शामिल किए गए थे। जानकारों का कहना है कि यदि मापदंड में संशोधन नहीं किया गया, तो इस बार जिले में ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश से प्रभावित गेहूं समर्थन मूल्य पर नहीं बिक पाएगा।

संजय धीमान

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon : राजस्थान में 3 अगस्त से बारिश का नया सिस्टम, पूरे प्रदेश में होगी झमाझमNSA डोभाल की मौजूदगी में बोले मुस्लिम धर्मगुरु- 'सर तन से जुदा' हमारा नारा नहीं, PFI पर प्रतिबंध की बनी सहमतिकीमत 4.63 लाख रुपये से शुरू और देती हैं 26Km का माइलेज! बड़ी फैमिली के परफेक्ट हैं ये सस्ती 7-सीटर MPV कारेंराजस्थान में भारी बारिश का दौर जारी, स्कूलों की तीन दिन की छुट्टी, आज इन जिलों में झमाझम की चेतावनीWeather Update: राजस्थान में झमाझम बारिश को लेकर अब आई ये खबरराजस्थान में आज यहां होगी बारिश, एक सप्ताह तक के लिए बदलेगा मौसमएमपी में 220 करोड़ से बनेगा 62 किमी लंबा बायपास, कम हो जाएगी कई शहरों की दूरी, जारी हो गए टेंडरसरकारी नौकरी लगवा देंगे कहकर 10 युवाओं को लगाई 75 लाख रुपए की चपत, 2 गिरफ्तार

बड़ी खबरें

Vice President Election 2022 Live Updates : संसद पहुंची विपक्ष की वी-पी उम्मीदवार मार्गरेट अल्वाVice President Election 2022: उपराष्ट्रपति को वेतन से लेकर मिलती हैं ये रॉयल सरकारी सुविधाएं, ऐसे होता है चुनावMaharashtra: शिंदे सरकार ने महाराष्ट्र के सचिवों को दी स्पेशल 'पावर', अब मंत्रियों की तरह ले सकेंगे फैसलेंMaharashtra Politics: CM एकनाथ शिंदे और बागियों पर शिवसेना ने फिर साधा निशाना, सामना में कही ये बड़ी बातसात्विक अन्न से विचार भी होंगे सात्विक, बीमारियां रहेंगी दूर, 'गीताविज्ञान' पर डॉ. गुलाब कोठारी का संबोधन, देखें LiveCWG 2022 हिमा दास 0.01 सेकेंड से चूकीं, 200 मीटर रेस के सेमीफाइनल में हुई बाहरCyber Crime: लोगों को फंसाकर ऐंठ लिए 2 मिलियन डॉलर, जानिए क्या है 'Hi Mum' कोड?गूगल भी मना रहा भारत की आजादी के 75 साल का जश्न, 'इंडिया की उड़ान' नाम से डिजिटल संग्रह किया लांच
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.