नवजात को नोंचता रहा कौओं का झुंड, मुंह फेर आगे बढ़ गए लोग

Indresh Gupta

Publish: Oct, 19 2016 01:47:00 (IST)

Madhubani, Bihar, India
नवजात को नोंचता रहा कौओं का झुंड, मुंह फेर आगे बढ़ गए लोग

शहर के स्टेशन चौक से मालगोदाम रोड जाने वाली सड़क में विनोदानंद झा कालोनी के मुख्य द्वार के निकट सड़क किनारे यह शर्मसार करने वाला दृश्य दिखाई पड़ा।

मधुबनी। देश में कहीं न कहीं रोजाना ही ऐसी घटना प्रकाश में आती है, जहां लोग अपना पाप छुपाने के लिए तो कहीं अनचाहे बच्चे से मुक्ती पाने के लिए उसे सड़क किनारे फेंक जाते हैं। अक्सर देखने में आता है कि कहीं किसी नवजात को कूड़ें के ढ़ेर में फेंक दिया गया तो कहीं बैंग में भरकर कोई मंदिर के पास छोड़ गया।

अधिकतर मामलों में या तो बच्चे की मौत हो जाती है, या फिर किस्मत से उसे किसी मां के आंचल का सहारा मिल जाता है। ऐसा ही एक मामला फिर से प्रदेश के मधुबनी में देखने को मिला है, जहां एक नवजात को कोई सड़क पर फेंक जाता है, अब वह बच्चा जिंदा था कि उसकी बाद में मौत हो गई।

लेकिन शर्मसार करने वाली बात यह है कि उस बच्चे के शव को कौंओं का झुंड नोंचता रहता है और आस-पास से गुजरने वाले लोग मुंह फेर कर आगे बढ़ जाते हैं। शहर के स्टेशन चौक से मालगोदाम रोड जाने वाली सड़क में विनोदानंद झा कालोनी के मुख्य द्वार के निकट सड़क किनारे यह शर्मसार करने वाला दृश्य दिखाई पड़ा।

इस सड़क से आने-जाने वाले लोग इस मृत नवजात को देखकर मुंह फेर आगे बढ़ते रहे। सुबह से शाम हो जाने के बाद भी कोई व्यक्ति इस मृत नवजात के प्रति अपनी सहानुभूति दिखाते नहीं मिला। इस प्रकार दिन भर मानवता शर्मशार होती रही। कोई व्यक्ति मृत नवजात को कौओं से बचाने के लिए उस पर कपड़ा डालना भी मुनासिब नहीं समझा।

घटना को लेकर सवाल उठता है कि इस नवजात को किसने यहां किसने फेंका?
पुलिस प्रशासन व नगर प्रशासन पर भी सवाल उठता है कि मृत नवजात के यहां फेके होने की जानकारी क्यों नहीं मिली।

हालांकि नगर थानाध्यक्ष अरूण कुमार राय ने कहा कि हमें इसकी जानकारी मिल गई है। वहां से मृत बच्चा को उठाने की कार्रवाई की जा रही है। इस मृत नवजात के प्रति एक भी स्वयंसेवी संगठनों को आगे नहीं आने से मानवाधिकार की दंभ भरने वालों की भी पोल खोलकर रख दी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned