स्टूडेंट्स और मेंबर्स में डवलप करेगा बिजनेस थॉट्स

Jameel Khan

Publish: Jul, 17 2017 02:06:00 (IST)

Management Mantra
स्टूडेंट्स और मेंबर्स में डवलप करेगा बिजनेस थॉट्स

इस प्रोग्राम की खास बात यह है कि इसके जरिए इंस्टीट्यूट अपने मेंबर्स और स्टूडेंट्स में  बिजनेस थॉट्स को डवलप करने का काम करेगा

जयपुर। किसी भी बिजनेस को डवलप करने में लोकेशन से लेकर इन्फ्रास्ट्रक्चर तक सभी मायने रखते हैं। बिजनेस के हर पहलू की नॉलेज डवलप हो, इसे ध्यान में रखते हुए द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) अब नए प्रोग्राम 'मोटिवेट टूवड्र्स डवलपमेंट ऑफ एंटरप्रेन्योरशिप' को लेकर वर्क कर रहा है। इस प्रोग्राम की खास बात यह है कि इसके जरिए इंस्टीट्यूट अपने मेंबर्स और स्टूडेंट्स में  बिजनेस थॉट्स को डवलप करने का काम करेगा।

कमेटी फॉर कैपेसिटी बिल्डिंग ऑफ मेंबर इन प्रैक्टिस के चेयरमैन मुकेश  सिंह कुशवाहा ने बताया कि इस प्रोग्राम का उद्देश्य चार्टर्ड अकाउंटेंट्स को इनोवेटिव बनाने के साथ उन्हें बेहतर प्लेटफॉर्म डवलप देना भी है। उन्होंने बताया कि प्रोग्राम को इस तरह डिजाइन किया जा रहा है, जिससे मेंबर्स को हर तरह के बिजनेस की नॉलेज मिल सके। मेंबर्स और स्टूडेंट्स को डिफरेंट बिजेनस की नॉलेज मिले, इसके लिए कमेटी डिफरेंट फील्ड के एक्सपट्र्स के साथ मिलकर अलग-अलग चैप्टर में वर्कशॉप और सेमिनार आयोजित करेगी, जिससे सीए स्टूडेंट्स हर तरह की बिजनेस स्ट्रेटेजी को जान सकें। इंस्टीट्यूट ने इसके लिए मॉडल तैयार करना शुरू कर दिया है, पहला मॉडल रूफटॉप सोलर पैनलिंग के रूप में तैयार किया जा रहा है।  

हर शहर के मुताबिक डवलप किए जाएंगे बिजनेस आइडियाज
प्रोग्राम में खास यह है कि इसमें शहर में होने वाले रिसोर्सेज, इन्फ्रास्ट्रक्चर और अपॉच्र्युनिटीज के मुताबिक बिजनेस आइडियाज को डवलप करने का प्रयास किया जाएगा। यानी सीए उस शहर में होने वाले बिजनेस को ध्यान में रखते हुए क्लाइंट को बिजनेस सजेस्ट करेगा। इसके बाद क्लाइंट का माइंडसेट डवलप होने के बाद उसी तरह की फेसिलिटी प्रोवाइड करवाएगा।

स्टूडेंट्स-मेंबर्स से भी मांगे जाएंगे आइडियाज
प्रोग्राम के तहत मेंबर्स व स्टूडेंट्स को वर्कशॉप्स के जरिए डिफरेंट फील्ड के बिजनेस की नॉलेज दी जाएगी, वहीं स्टूडेंट्स से नए बिजनेस आइडिया भी जाने जाएंगे। इसके अलावा फीडबैक भी लिए जाएंगे। इंस्टीट्यूट से मिली जानकारी के अनुसार, यदि कोई मेंबर अच्छे बिजनेस केस बताता है, तो उसे भी इस प्रोग्राम की वर्किंग में शामिल किया जाएगा। इसके अलावा मॉक प्रोजेक्ट्स भी बनवाए जाएंगे। स्टूडेंट्स और मेंबर्स के अलावा प्रोग्राम में बिजनेसपर्संस से भी फीडबैक लिया जाएगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned