गोबर गैस के होज में मिली यह महिला, ऐसा क्या हुआ इसके साथ...

vikram ahirwar

Publish: Mar, 21 2017 12:42:00 (IST)

Mandsaur, Madhya Pradesh, India
गोबर गैस के होज में मिली यह महिला, ऐसा क्या हुआ इसके साथ...

- कुछ नहीं मिला तो बदमाश ले गए मंगलसूत्र के मोती 


मंदसौर/रतलाम.
शहर के वायडीनगर थानाक्षेत्र के अंतर्गत ग्राम राजाखेड़ी में गत दिवस दो बदमाश अफीम का कुंडा लेने के लिए एक घर में घूसे। इस घर में महिला अकेली थी। यहां बदमाशों ने अफीम का कुंडा मांगा। महिला ने अनभिज्ञता जताई तो बदमाशों ने एक कमरे के दरवाजे पर ताला लगा देखा। तो उन्होंने उस कमरे की चाबी मांगी। चाबी नहीं देने पर महिला के साथ मारपीट की। महिला ने विरोध जताया और चिल्लाई भी। बदमाशों ने महिला का मंगलसुत्र भी खींचा। इस पर नीचे गिर गया, हालांकि उसमें चार पांच सोने की मोती बदमाशों के हाथ आए। बदमाशों ने महिला के हाथ पैर बांध दिए और मुंह पर कपड़ा लगा दिया। बाद में बदमाशों ने महिला को गोबर गैस प्लांट के लिए बनाई गए होज में डाल दिया। बाद में बदमाशों ने कमरे के दरवाजे पर लगा ताला तोडऩे की कोशिश भी की। जब ताला नहीं टूटा तो दरवाजा तोडऩे का प्रयास किया। बदमाश कमरे का दरवाजा खोलने का जतन कर रहे थे कि महिला का पति और भतीजा आ गया। उन्होंने दरवाजा खटखटया। लेकिन अंदर बदमाशों ने नहंी खोला। शक होने पर दोनों पास वाले घर की छत पर आए और घर में कूदे। इस दौरान दोनों बदमाश फरार हो गए। महिला के परिजनों ने उसको होज से निकाला और हाथ पैर खोल मंदसौर निजी अस्पताल लेकर आए। उपचार के बाद महिला को सोमवार को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। इस मामले में वायडीनगर थाने में परिजनों ने शिकायत दर्ज कराई। हालांकि पुलिस ने घटना की जानकारी को छिपाए रखा। सोमवार को 'पत्रिका' को जानकारी मिलने पर पीडि़त एवं उनके परिजनों से घटना की जानकारी ली। वायडीनगर पुलिस ने सोमवार को स्वीकारा घटना तो हुई है। पर घटना बड़ी नहंी है। बदमाश घर से कुछ ले जाने में सफल नहीं हुए है। मामले कीजांच की जा रही है।  

Mandsaur news

राजाखेड़ी के सरपंच भारतसिंह ने बताया कि रविवार को सुबह साढ़े आठ बजे मेरे छोटे भाई कमलसिंह की पत्नि इंद्रा कुंवर घर पर थी। इस दौरान दो बदमाश आए और घर में घुस गए और दरवाजा लगा लिया। बदमाशों ने इंद्रा कुंवर से अफीम के कुंडे का पूछा और कमरे की चाबी मांगी। जब इंद्रा कुंवर ने विरोध किया तो बदमाशों ने लठ्ठ की मारी मंगलसुत्र छिनने की कोशिश भी की। मंगलसूत्र तो मिल गया लेकिन कुछ मोती ले गए। और उसके हाथ पैर बांधकर उसे गोबर गैस की खेर में डाल दिया। इस दौरान मेरा भाई कमलसिंह और मेरा बेटा प्रितेश खेत से चाय लेने के घर आए। जब दोनों ने दरवाजा खोलने की कोशिश की तो नहीं खुला। इसके बाद पास वाले हमारे बड़े भाई के घर पर गए और पीछे से अंदर आए। इस दौरान दोनों बदमाश फरार हो गए। घायल बहू का खैर से निकाला और अस्पताल ले गए। जहां सोमवार को डॉक्टर ने डिस्चार्ज किया। इसका आवेदन वायडीनगर थाने में दिया है। उन्होंने बताया कि कुछ माह पहले मेरे घर पर तीन लाख की डकैती हुई थी। लेकिन अभी तक पुलिस ने आरोपियों को नहीं पकड़ा। उन्होंने बताया कि बीस आरी का पट्टा मेरे भाई गोपालसिंह के नाम से है। और 12 किलो अफीम घर में रखी है। वायडीनगर थानाप्रभारी योगेंद्रसिंह ने कहा कि शिकायत पर मौके पर जाकर देखा है। मंगलसूत्र मिल गया है। जांच की जा रही है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned