महिलाओं ने शराब बाहर फेंक दुकान में लगाई आग  

Mandsaur, Madhya Pradesh, India
महिलाओं ने शराब बाहर फेंक दुकान में लगाई आग  

- सेल्समैन ने  महिलाओं पर लगाया आग लगाने का आरोप


मंदसौर/रतलाम.
शहर से करीब सात किलोमीटर दूरी पर स्थित निपानिया मेघराज ग्राम में शुक्रवार शाम साढ़े पांच बजे महिलाओं ने दुकान में घुसकर शराब की बोटले बाहर फेंक दी। इस बीच कुछ महिलाओं ने दुकान में आग लगा दी। महिलाएं क्षेत्र में शराब दुकान लगाने का विरोध कर रही थी। उन्होंने कहा कि यह प्रदर्शन उन्होंने विभिन्न शहरों में शराब के खिलाफ महिलाओं द्वारा किए जा रहे प्रदर्शन को टीवी में देखकर किया है। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। मौके पर पुलिस अधिकारियों ने फायर फाइटर को सूचना दी। करीब पंद्रह मिनट बाद मिनी फायर फाइटर आया और आग पर काबू पाया। सेल्समैन ने महिलाओं पर आग लगाने का आरोप लगाया है। वहीं महिलाओं ने सेल्समैन पर ही दुकान में आग लगाने का आरोप लगाया है। सूचना पर सीएसपी सांईकृष्ण थोटा मौके पर पहुंचे और महिलाओं से जानकारी ली। 

Mandsaur news
महिलाओं ने कहा शराब ने कर दिया जीना मुश्किल 
निपानिया मेघराज निवासी विद्याबाई, तुलसा कुंवर, राजीकुवर, मुन्नीबाई, भोमरबाई, विष्णुबाई, दुर्गाकुं वर सहित अन्य महिलाओं ने बताया कि  गांव में शराब की दुकान से बहुत अधिक परेशान हो गए है। हमारे गांव के लड़के शराब पीते है। कुछ दिन पहले यह दुकान हटाकर यहां पर लगा दी। आज हम यहां सब एकत्रित होकर दुकान वाले से बोलने आए और हमने शराब दुकान वाले से कहा कि रविवार तक दुकान बंद कर देना। इस दरमियान उसने हमसे धक्का-मुक्की और बाहर गल्ला लेकर भाग गया। हमने शराब दुकान से बाहर निकाल कर फेंक दी। इसके बाद उस लड़के ने ही दुकान में आग लगा दी। महिलाओं ने बताया कि दुर्गा कुंवर का बेटा यहां शराब पीकर सो रहा था। दुर्गा बहुत परेशान थी। हमारे गांव के कई युवा शराब पीने लगे है। हमको यह शराब दुकान नहीं चाहिए। और जो ढाबों पर शराब बिक रही है उस पर भी रोक लगाना चाहिए। शराब ने कई लोगों की जिंदगियां खत्म कर दी है। 
इनका कहना 
सीएसपी सांई कृष्ण थोटा ने बताया कि देशी शराब की दुकान में आग लगाई गई है। इसकी जांच की जा रही है। जांच कर संबंधितों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। जिला आबकारी अधिकारी डॉ शादाब अहमद सिद्दकी ने कहा कि नियमानुसार दुकान है। मामले की जांच करवाई जाएगी। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned