मदरसे में बच्चों और शिक्षकों ने सीखा योग, कहा- योग से हैं कई फायदे

Mau, Uttar Pradesh, India
 मदरसे में बच्चों और शिक्षकों ने सीखा योग, कहा- योग से हैं कई फायदे

जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी ने सिखाया योग

मऊ. बुधवार को पूरे विश्व में तीसरा अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जायेगा और इसी कड़ी में सरकार लोंगो को योग करने को लेकर लगातार जागरूक करने का काम कर रही है। विश्व योग दिवस के पूर्व संध्या पर मऊ जिले के एक मदरसे में मदरसे के शिक्षकों और छात्रों ने योग करने के गुर सीखे और योग भी किया और अपने साथ ही परिवार के लोगों को भी योग के लिए प्रेरित करने का संकल्प लिया है। इस मदरसे में छात्रों और शिक्षकों ने पहली बार योग किया। मदरसे के लोगों को जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी ने खुद योग करके उनको योग करने के तरीको को बताया।

यह भी पढ़ें:

International Yoga Day: विश्व रिकार्ड बनाने को बुद्ध भूमि के लाल महेश ने शुरू किया योग


नगर क्षेत्र स्थित तालीमुद्दीन निस्वां मदरसे में जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी विजय प्रताप यादव के नेतृत्व में योगा अभ्यास शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें मदरसे के शिक्षकों और छात्रों को योगा अभ्यास कराया गया। साथ ही योग से होने वाले स्वास्थ्य लाभ के बारे में विस्तार से जानकारी दिया गया।  योगा अभ्यास में भाग लेने में वाले मुश्लिम शिक्षिकों और छात्रों से अपील किया गया कि वह अपने परिवार के साथ ही आस पङोस के लोगों से भी योग से जुड़े।





वहीं शिविर के बाद मदरसे के बच्चों भी योग को लेकर उत्साहित दिखे। मदरसे के शिक्षकों ने बताया कि जब हम पढ़ते थे, तब पीटी के नाम से योगा होता था। आज हमारे अधिकारी ने कई प्रक्रिया से हमे योग करना बताया है, यह वाकई बहुत अच्छी चीज है, इसको करना चाहिए।





जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी विजय प्रताप यादव ने कहा कि यहां के अध्यापक और छात्रों के बीच हम लोगों ने योगा किया और यह पूरे मऊ जनपद के लिए एक पैगाम है कि योग किसी खास मजहब के लिए नहीं है। उन्होंने कहा कि प्राचीन सनातन परम्पराओं में मुस्लिम समाज में सूफी सम्प्दाय में यह खास अमूल्य रहा है, इस योग को सभी धर्मों के लोगों को करना चाहिए, इसलिए हमने छात्रों और टीचरों से अपील किया है की आपलोग योगा करिये और अपने घर परिवार में सबको योगा करने के लिये प्रेरित करिये ताकि हम और हमारा समाज एक स्वस्थ्य भारत के निर्माण में अमूल्य योगदान दे सके।


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned