ईवीएम की सुरक्षा के लिए डीएम बी चंद्रकला तैनात किया एक खास सिपाही

Meerut, Uttar Pradesh, India
ईवीएम की सुरक्षा के लिए डीएम बी चंद्रकला तैनात किया एक खास सिपाही

स्‍ट्रांग रूम के बाहर अद्र्धसैनिक बलों के जवान भी किए गए हैं तैनात

मेरठ. पहले चरण का चुनाव होने के बाद मेरठ जिले की सभी सातों सीटों की ईवीएम मशीनों को परतापुर कताई मिल में स्ट्रांग रूम बनाकर वहां रखा गया है। स्ट्रांग रूम की सुरक्षा के लिए जहां अद्र्धसैनिक बलों के जवान तैनात हैं। वहीं डीएम बी चंद्रकला की ओर से एक खास सिपाही की भी तैनाती की गई है। ये खास सिपाही ईवीएम को कुछ खास तरह के दुश्मनों से बचाने के लिए तैनात किया गया है। आइए आपको भी बताते हैं इस खास सिपाही के बारे में...

बंदरों से सुरक्षा में लगाया से खास जवान
जिस परतापुर कताई मिल में स्ट्रांग रूम बनाया गया है वह अक्सर बंद रहती है। जिसकी वजह से वहां पर बड़ी संख्या में बंदर घूमते रहते हैं। इस समय यहां पर ईवीएम की सुरक्षा में पुलिस और अद्र्धसैनिक बल तैनात किया गया है। वहीं बंदरों को भगाने के लिए यहां पर लंगूर को पहरे पर बिठा दिया गया है। जानकारों की मानें तो लंगूर को देखकर बंदर भाग जाते हैं, इसीलिए यहां बंदरों को स्ट्रांग रूम के आसपास से दूर भगाने के लिए लंगूर को रखा गया है। ताकि वो स्ट्रांग रूम के अंदर और बाहर खड़े जवानों को किसी तरह का नुकसान पहुंचा सके।

स्ट्रांग रूम के बाहर लगाए सीसीटीवी कैमरे
मतदान के बाद परतापुर स्थित कताई मिल में रखी गई ईवीएम मशीनों की सुरक्षा के लिए डीएम बी़ चन्द्रकला ने सीसीटीवी कैमरे लगवाए हैं। 24 घंटे स्ट्रांग रूम सीसीटीवी की निगरानी में हैं, यहां किसी को आने की परमिशन नहीं है। वहीं ईवीएम मशीनों की सुरक्षा के लिए मतगणना होने तक वहां राजपत्रित अधिकारियों की तैनाती की गई है। ईवीएम एवं वीवीपैट की सतत निगरानी व निरीक्षण के लिए यह व्यवस्था की गई है। स्ट्रांग रूम की कड़ी निगरानी के लिए 12 राजपत्रित अधिकारियों की तैनाती की गई है। इसके अलावा 2 अधिकारी रिजर्व में रखे गए हैं। ये अधिकारी 8-8 घंटे की ड्यूटी करेंगे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned