इस बहादुर लड़की ने अंजान कैब ड्राइवर की मदद कर फेसबुक पर लिखा कुछ ऐसा कि लोग बोले 'वाह'

Miscellenous India
इस बहादुर लड़की ने अंजान कैब ड्राइवर की मदद कर फेसबुक पर लिखा कुछ ऐसा कि लोग बोले 'वाह'

कहते हैं कि आज के इस भागदौड़ वाले दौर में इंसानों की इंसानियत कहीं खो गई है, लोग अपनों के काम नहीं आते तो वो गैरों के काम कैसे आ सकते हैं..

मुंबई: कहते हैं कि आज के इस भागदौड़ वाले दौर में इंसानों की इंसानियत कहीं खो गई है, लोग अपनों के काम नहीं आते तो वो गैरों के काम कैसे आ सकते हैं। लेकिन इस धारणा से परे मुम्बई की एक बहादुर लड़की की इंसानियत मिसाल बन चुकी है। उसने जो काम किया है, लोग उसकी तारीफ किये बिना नहीं रह पा रहे हैं।

दरअसल मुंबई में एक ऐसी ही घटना सामने आई। जिसमें हिमानी जैन नाम की एक बहादुर लड़की ने उबर कैब ड्राइवर की मदद की। जिन हालात में उसने मदद की, अब काफी संख्या में लोग उसे सराह रहे हैं।

दरअसल, हिमानी जैन जिस कैब में सफर कर रही थीं, उनके साथ एक और महिला थी। महिला ने कैब में बैठने के साथ ही ड्राइवर से रूट को लेकर बहस शुरू कर दी। इस पर कैब ड्राइवर ने कहा कि वह ऐप में दिखाए जा रहे रूट को फॉलो कर रहा है।

लेकिन बात बिगड़ती गई और गुस्से में आकर महिला ने ड्राइवर को थप्पड़ मारने की धमकी तक दे दी। इसके बाद मामला इतना बिगड़ गया कि पुलिस बुलानी पड़ी। पुलिस के आने के बाद जब हिमानी जैन वापस जाने लगी तो महिला सिक्योरिटी गार्ड ने उन्हें रुकने की रिक्वेस्ट की और कहा कि प्लीज आप रुक जाएं, मामला लेडिज का है और आपको पुलिस स्टेशन जाना चाहिए। नहीं तो वो इसे मार डालेंगे। पुलिस स्टेशन जाने को लेकर हिमानी जैन को थोडी झिझक हुई लेकिन वो पवाई पुलिस स्टेशन गईं और ड्राइवर की बेकसूरी को साबित किया।

अपने फेसबुक वॉल पर हिमानी ने लिखा, “मैंने अपना स्टेटमेंट दिया कि न ही मैं महिला को जानती हूं न ही ड्राइवर को। इसके बावजूद मैं यहां एक ईमानदार आदमी की मदद करने आई हूं। महिला ने ड्राइवर से कहा कि वो उसके पैर छूकर माफी मांगे। वह महिला 11 बजे तक वहां रुकी और बाद में चली गई। उसके चले जाने तक मैं भी वहां रूकी रही। मैंने पुलिस को सारी बात समझायी। लेकिन पुलिस ने मुझसे कहा कि मैं यहां से चली जाउं और वे ड्राइवर के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। 

http://static.abplive.in/wp-content/uploads/sites/2/2016/11/29135706/himani-jain-580x395.jpg
इसके बाद वे ड्राइवर को कमरे में ले गए जहां से उसके चिल्लाने की आवाजें मुझे साफ सुनाई दे रही थी। लेकिन मैं तब चौंक गई जब मैंने देखा कि पुलिस वाले एक कमरे में ड्राइवर को ले जाकर डंडे से जमीन पर मार रहे हैं और ड्राइवर मुस्कुराते हुए चिल्ला रहा है। पुलिस वालों ने मुझे सरप्राइज कर दिया। मैं नहीं जानती कि यह सही था या गलत लेकिन मुझे खुशी हुई. इसके बाद एक पुलिस कान्सटेबल मेरे पास आया और इस काम के लिए मेरा शुक्रिया कहा। मैंने घर पहुंचने के एक घंटे बाद ड्राइवर को फोन किया और उसने कहा कि वह ठीक है।”

अपने फेसबुक पोस्ट में हिमानी ने मुंबई पुलिस को धन्यवाद कहा. इस पोस्ट को पढ़कर लोगों ने हिमानी को शाबीशी दी। हिमानी जैन इस घटना से जुड़ा पोस्ट 24 नवंबर को डाला था। जिस पर 39,000 से ज्यादा रिएक्शन आएं और 6,200 शेयर किया गया। लोगों ने अपने कमेंट में हिमानी को सलाम किया।

एक फेसबुक यूजर आशिश गुप्ता ने हिमानी का पोस्ट शेयर करते हुए लिखा कि हिमानी आपको सलाम, वहीं प्रणति माथुर ने पोस्ट को शेयर करते हुए लिखा कि हिमानी हमें आप पर गर्व है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned