लापता छात्र को लेकर जेएनयू में बवाल, वीसी और रजिस्ट्रार को बनाया बंधक

shiv shankar

Publish: Oct, 20 2016 12:18:00 (IST)

Miscellenous India
लापता छात्र को लेकर जेएनयू में बवाल, वीसी और रजिस्ट्रार को बनाया बंधक

जेएनयू के एक छात्र की गुमशुदगी से गुस्साए छात्रों ने देर शाम वीसी और रजिस्ट्रार को बंधक बना लिया है।

नई दिल्‍ली। दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) एक बार फिर चर्चा में है। खबरों के मुताबिक, जेएनयू के एक छात्र की गुमशुदगी से गुस्साए छात्रों ने देर शाम वीसी और रजिस्ट्रार को बंधक बना लिया है। जेएनयू स्टूडेंट यूनियन के सदस्यों ने एडमिन ब्लॉक को चारों तरफ से घेर लिया है। इमारत में प्रशासनिक अधिकारियों को बंद कर दिया गया है। इमारत में बंधक बने लोगों में वीसी, डीन ऑफ स्टूडेंट्स और रजिस्ट्रार शामिल हैं। इस मामले को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने दिल्ली पुलिस के कमिश्नर से बात की और मामले की पूरी जानकारी ली।

बताया जा रहा है कि चीफ प्रॉक्टर बड़ी मुश्किल से यहां से निकल पाए। आपको बता दें कि स्कूल ऑफ बायोटेक्नोलॉजी का छात्र नजीब अहमद शनिवार से कथित तौर पर लापता है। लापता होने से एक दिन पहले अहमद का कुछ छात्रों से झगड़ा हुआ था। हालांकि, परिजनों की शिकायत मिलने पर बसंत कुंज थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई है। लेकिन, जेएनयू के छात्रों में गुस्सा इस बात का है कि गुमशुदगी पर जेएनयू प्रशासन कार्रवाई नहीं कर रहा। 

एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने बुधवार को इस संबंध में प्रदर्शन किया। लापता छात्र को बरामद करने की अपील की। छात्र का सुराग न मिलने पर पुलिस मुख्‍यालय पर प्रदर्शन की चेतावनी दी है। जेएनयूएसयू के प्रेसिडेंट महेश पांडेय का कहना है कि हम पिछले पांच दिन से लापता नजीब को तलाशने की मांग कर रहे हैं। नजीब की गुमशुदगी पर एफआईआर दर्ज न करने से छात्र नाराज हैं।

दूसरी तरफ विश्वविद्यालय के कुलपति एम जगदीश कुमार और अन्य शीर्ष अधिकारियों ने 15 अक्तूबर की दोपहर को अहमद के गुम होने के बाद पहली बार मीडिया को बताया कि लड़के का पता लगाने के लिए सारे कदम उठाए गए हैं और वह परिवार के संपर्क में भी हैं। कुमार ने कहा, 'लेकिन हम उसकी सुरक्षा के बारे में वाकई चिंतित हैं और पुलिस के साथ नियमित संपर्क में हैं और जो भी जरूरत है वो सूचना प्रदान कर रहे हैं. हमने नजीब अहमद से भी अपील की है कि अगर वह इसे पढ़ रहा है तो विश्वविद्यालय लौट आए. हम उसे सभी तरह की मदद का आश्वासन देते हैं।'

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned