अस्पताल के डॉक्टरों ने नवजात को बताया मृत, लेकिन अंतिम संस्कार से ठीक पहले निकला जिंदा

Miscellenous India
अस्पताल के डॉक्टरों ने नवजात को बताया मृत, लेकिन अंतिम संस्कार से ठीक पहले निकला जिंदा

दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में डॉक्टरों द्वारा बहुत बड़ी लापरवाही बरतने का मामला सामने आया है, जिससे अस्पताल प्रशासन पर कई गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं...

नई दिल्ली: दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में डॉक्टरों द्वारा बहुत बड़ी लापरवाही बरतने का मामला सामने आया है, जिससे अस्पताल प्रशासन पर कई गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं। सफदरजंग अस्पताल के डॉक्टरों ने एक नवजात को मृत घोषित कर दिया। लेकिन जब बच्चे को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया तो परिवार के लोगों ने उसे जिंदा पाया। मामला सामने आने के बाद सफदरजंग अस्पताल प्रशासन ने जांच के आदेश देते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

बच्चे के पिता रोहित ने बताया कि, 'डॉक्टर और नर्सिंग कर्मचारियों ने बच्चे को मृत घोषित कर उसके शव को एक पैक में बंद कर उस पर मोहर लगा दी और अंतिम संस्कार के लिए हमें थमा दिया।'

एक अंग्रेजी वेबसाइट की खबर के अनुसार नवजात की मां की हालत ठीक नहीं थी तो वह अस्पताल में ही भर्ती हैं, जबकि पिता रोहित और परिवार के अन्य सदस्य शव को लेकर घर आए और अंतिम संस्कार की तैयारी शुरु कर दी। तभी पैक में कुछ हरकत हुई। जब उस पैक को खोला गया तो बच्चे की धड़कन चल रही थी और वह हाथ पैर चला रहा था।

बच्चे के पिता ने बताया कि उनकी पत्नी ने रविवार सुबह बच्चे को जन्म दिया था। जन्म के बाद अस्पताल के कर्मचारियों को बच्चे में कोई हरकत नजर नहीं आई। जिसके बाद उसे मृत घोषित कर दिया गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned