आईएस को खदेडऩे के लिए मोसुल में शुरु हुई भयंकर लड़ाई

Rakesh Mishra

Publish: Oct, 19 2016 11:28:00 (IST)

Miscellenous World
आईएस को खदेडऩे के लिए मोसुल में शुरु हुई भयंकर लड़ाई

सबसे खूंखार आतंकवादी संगठन आईएस को मोसुल से खदेडऩे के लिए इराक, अमरीका और सहयोगी देशों की सेनाओं की कवायद शुरु

बगदाद। सबसे खूंखार आतंकवादी संगठन आईएस को मोसुल से खदेडऩे के लिए इराक, अमरीका और सहयोगी देशों की सेनाओं ने कवायद शुरु कर दी है। इराकी सेना ने मंगलवार को इस सैन्य अभियान के शुरू होने के 24 घंटों के भीतर ही मोसुल के बाहरी इलाके में बसे करीब 20 गांवों को अपने कब्जे में ले लिया है।

उधर, एक सैनिक के शरीर में लगे कैमरे में कैद हुई फुटेज से मोसूल में हो रही लड़ाई की खौफनाक तस्वीरें सामने आई हैं। एक कुर्दिश लड़ाके ने इसे भयानक गोलीबारी और बम धमाकों के बीच खुले मैदान में भागते समय रिकॉर्ड किया। मेल ऑनलाइन की खबर के मुताबिक, फुटेज में इस सैनिक के साथ पेशमेरगा लड़ाकों की एक टीम भी दिख रही है, जो कि अपनी जान जोखिम में डालकर लड़ाई के मैदान में बनी एक इमारत में पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं।

इराकी लेफ्टिनेंट मेहसेन गर्दी ने डेली टेलीग्राफ को बताया कि मोसुल के बाहर एक गांव में चल रही लड़ाई के दौरान आईएस आतंकी, वहां बने सुरंगों के जाल से चूहों की तरह निकलकर हमपर आत्मघाती हमले कर रहे थे। मंगलवार रात उन्हें मोसुल के पूर्व में स्थित कुछ गांवों को आईएस से छीनने में कामयाबी मिली। अब इराकी सेना मोसुल पर कब्जे की अपनी कार्रवाई के अगले चरण की ओर बढ़ रही है।

कैमिकल हमला कर सकता है इस्लामिक स्टेट
एसोसिएटिड प्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक मोसुल में अभी भी 15 लाख निवासी हैं। इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन फॉर माइग्रेशन ने कहा है कि वह आतंकियों द्वारा केमिकल हमले की आशंका के मद्देनजर लोगों के लिए गैस मास्क तैयार कर रहा है। इराकी कुर्दिश फौजों पर आतंकी पहले भी ऐसे हथियारों से हमले कर चुके हैं। नागरिकों का कहना है कि आईएसआईएस ने लोगों को मानव ढाल के रूप में इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। उन इमारतों में लोगों को रहने की अनुमति दी जा रही है, जिन पर हवाई हमला हो सकता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned