सेल्फी बनी किल्फी, भारत में सबसे अधिक मौतें

Miscellenous World
सेल्फी बनी किल्फी, भारत में सबसे अधिक मौतें

 विश्वभर में दो सालों में 127 की मौत। दूसरे स्थान पर पाकिस्तान।

नई दिल्ली. सेल्फी का हर कोई दीवाना है लेकिन भारत में इस शौक के लिए लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा रहा है। बीते दो सालों में दुनियाभर में 127 लोग सेल्फी क्लिक करने के चक्कर में मर गए। इनमें से सबसे अधिक 76 मौतें भारत में हुईं।

सेल्फी से होने वाली मौतों में भारत के बाद दूसरा स्थान पाकिस्तान का है। दिल्ली के सरकारी विश्वविद्यालय आईआईआईटी और अमरीका की कार्नेजिया मेलन यूनिवर्सिटी ने इस बाबत संयुक्त शोध किया। शोध का नाम मी, माइ सेल्फ एंड माई किल्फी है। इसकी रिपोर्ट पेश की गई। इसके अनुसार, साल 2014 से लेकर सितंबर 2016 तक भारत में 76, पाकिस्तान में 09 और अमरीका में कुल 08 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी। वर्ष 2014 में 15 मौतें हुई थीं। साल 2006 में आंकड़ा 39 तक पहुंचा। इसके बाद साल 2016 में 73 लोगों की मृत्यु सेल्फी के कारण हुई। इनमें में रुस, फिलिपींस और स्पेन के लोग भी शामिल हैं।

पहाड़ों पर ज्यादा मौतें

शोधार्थियों ने पाया कि इन मृत लोगों ने ज्यादातर पहाडि़यों व ज्यादा ऊंचाई वाली लोकेशन पर चढ़कर सेल्फी लेने की कोशिश की थी। इस प्रयास में वो पांव फिसलने से नीचे गिर गए। उनकी तुरंत मौत हुई। ये सभी लोकेशन बेहद आकर्षक थी। इसके अलावा नदी व समुद्र में सेल्फी क्लिक करने से भी जानें गईं। यही वजह है कि हाल में मुंबई पुलिस ने शहर की 16 खतरनाक जगहों को नो सेल्फी जोन घोषित किया है।

महिलाएं सेल्फी की शौकीन

 पुरुषों की तुलना में महिलाएं सेल्फी की अधिक दीवानी हैं। हालांकि जिनकी मुत्यु हुई उनमें पुरुष ज्यादा हैं। 75.5 फीसदी पुरुषों की मौत हुई। इनकी उम्र 24 साल से कम थी। ये सभी फेसबुक व ट्विटर जैसी सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर तस्वीरें अपोलड करने के लिए सेल्फी खींच रहे थे। बता दें कि साल 2015 में 2400 करोड़ सेल्फी की तस्वीरें गूगल पर अपलोड की गई थीं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned