योगी राज में दारोगा ने गैंगरेप पीड़िता को न्याय दिलाने के नाम पर मांगी अस्मत

Noida, Uttar Pradesh, India
योगी राज में दारोगा ने गैंगरेप पीड़िता को न्याय दिलाने के नाम पर मांगी अस्मत

दारोगा ने एक महिला से गैंगरेप की फाइनल रिपोर्ट लगाने के नाम पर उसकी आबरू ही मांग लिया। हालाकिं, महिला ने अपनी आबरू को बचाकर मामले की शिकायत कर दी है। 

रामपुर. उत्तर प्रदेश के जिला रामपुर में एक बार फिर खाकी वर्दी सवालों के घेरे में है। खाकी की गरिमा को तार करने वाला कोई और नहीं, बल्कि वह दारोगा है, जिसके कंधे पर हमारी और आपकी सुरक्षा की जुम्मेदारी है। जी हां, दारोगा ने एक महिला से गैंगरेप की फाइनल रिपोर्ट लगाने के नाम पर उसकी आबरू ही मांग लिया। हालाकिं, महिला ने अपनी आबरू को बचाकर मामले की शिकायत कर दी है। अब एसपी के आदेश पर विभाग इसकी जांच भी कर रहा है।

यह है पूरा मामला
दरअसल, कोतवाली गंज में तैनात दरोगा ने गैंगरेप के मामले में चार्जशीट लगाने के नाम पर महिला से उसके जिस्म का सौदा कर डाला । अपनी हवस मिटाने के लिए आरोपी दरोगा ने महिला को फोन कर अकेले अपने रूम पर बुलाया। दारोगा ने पीड़ित महिला से कहा कि अगर वो उसकी बात मानती है तो दिल से उसके मामले में चार्जशीट दाखिल कर दोषियों को जेल भेज दिया जाएगा। यही नही महिला को बार-बार फोन कर अश्लील सवाल भी आरोपी दरोगा करता रहा। जो फोन रिकॉडिंग में साफ सुना जा सकता है। 
महिला ने एसपी से की शिकायत
इस मामले में पीड़ित महिला ने रामपुर एडिशनल एसपी सुधा सिंह से आरोपी दरोगा के खिलाफ कार्यवाही के लिए ऑडियो सीडी के साथ अर्जी दी है, जिसमें अय्याश दरोगा की करतूत रिकॉड है। एएसपी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी दरोगा के खिलाफ थाना गंज इंस्पेक्क्टर को जांच सोपी है।


गैंगरेप की घटना से जुड़ा है मामला
दरसल मामला गैंगरेप की घटना से जुड़ा है, जिसकी जांच थाना गंज में तैनात दरोगा जय प्रकाश कर रहे थे। महिला का मेडिकल भी कराया गया था और साथ ही महिला के न्यायालय में 161, व 164 के बयान भी दर्ज कराए गए थे। 

महिला ने दारोगा पर लगाए ये गंभीर आरोप
महिला का आरोप है कि आरोपी दरोगा महिला से जांच के नाम पर अश्लील बातें करता है व महिला के साथ हम बिस्तर होने का दबाव भी बना रहा था महिला को अकेले रुम पर बुला रहा था यही नही महिला से आरोपी दरोगा चार्जशीट लगाने का वादा भी कर रहा था। जब पीड़ित महिला ने उसके इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया तो आरोपी दरोगा ने गैंग रेप के आरोपियों से मिलकर उनसे पैसे लेकर मामले में फाइनल रिपोर्ट लगा दी। महिला बार-बार न्याय के लिए आरोपी से गुहार लगाती रही, पर आरोपी दरोगा नहीं माना। 

एएसपी ने उसी थाने को सौंपी जांच
एडिश्नल एसपी ने आरोपी दरोगा के खिलाफ जांच के आदेश उसी कोतवाल को दिए हैं, जिस कोतवाली में वह दारोगा तैनात है। लिहाजा जांच को अभी से संदेह की नजर से देखा जा रहा है। लोगों के मन में एक बड़ा सवाल ये है, क्या उसी कोतवाली का कोतवाल जांच में अपने दारोगा को दोषी ठहराएंगे, जिससे उनके कोतवाली की भी बदनाम होगी। जांच में क्या आता है यह तो रिपोर्ट आने के बाद ही साफ हो पाएगा। वहीं, इस मामले में अडिशनल एसपी सुधा सिंह ने बताया कि उनके पास एक महिला अपने वकील के साथ दरोगा के खिलाफ कार्रवाई के लिए सीडी व प्राथना पत्र लेकर आई थी, जिसमें इस संबंध में थाना गंज इंस्पेक्टर को जांच दी गई है और कार्यवाही की जाएगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned