एक बार फिर डीएम ने पेश की नजीर, मृतक महिला कर्मी के बेटियों की ली जिम्मेदारी

Noida, Uttar Pradesh, India
एक बार फिर डीएम ने पेश की नजीर, मृतक महिला कर्मी के बेटियों की ली जिम्मेदारी

डीएम जुहैर बिन सगीर ने पहले भी लीक से हटकर कई लोगों की कर चुके हैं मदद

मुरादाबाद। एक बार फिर डीएम मुरादाबाद ने अपनी संजीदगी और सेवा की मिसाल पेश की है। दरअसल कलेक्ट्रेट में एक महिला कर्मी की कैंसर से मौत की खबर के बाद डीएम पीड़ित परिवार को सांत्वना देने ही पहुंचे। इस दौरान जब उन्हें पता चला कि मृतक महिला कर्मी के सिर्फ दो ही बेटियां हैं तो उन्होंने आगे बढ़कर दोनों की जिम्मेदारी ली।

साथ ही मौजूद कर्मियों व अधिकारियों को निर्देश दिए की। दो दिन के भीतर मृतक के सारे भुगतान हो जाएं। डीएम ने मृतक की दोनों बेटियों में से एक को दो दिन में मृतक आश्रित कोटे से नौकरी का वादा भी किया। जिसे सुन खुद बेटियां व आसपास के लोग भी डीएम के कायल हो गए।


तहसीलदार की महिला पेशकार जानकी देवी का बीमारी के चलते बुधवार को निधन हो गया था। जिसकी सूचना मिलने पर डीएम जुहैर बिन सगीर तहसील दिवस के बाद सीधे जानकी देवी के निवास पर पहुंचे। वहां उनके परिवार के लोगों को सांत्वना दी और दुःख प्रकट किया। परिवार को धैर्य बंधाते हुए आश्वासन दिया कि जानकी देवी के निधन के बाद उनके स्थान पर नियमानुसार उनकी एक बेटी को सरकारी नौकरी दी जाएगी।

साथ ही जिलाधिकारी ने कहा कि जो भी उनके विभाग में फंड आदि हैं। वो तुरंत उनकी आश्रितों को दिए जाएंगे। जिलाधिकारी ने निर्देश दिए की कल ही उनके परिवार को सारे भुगतान करा दिए जाए। यहां बता दें की डीएम जुहैर बिन सगीर लगातार जरुरतमंदों की मदद लीक से हटकर करते हैं। चाहे वह रमजान में रिक्शा चालक के घर रोजा खोलना हो या विकलांग को अपने ऑफिस में बुलाकर तुरंत विकलांग सर्टिफिकेट बनवाना हो या सड़क पर बूढ़ी घायल महिला को अस्पताल में भर्ती कराना हो।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned